राजनैतिक विरासत की बागडोर हाथों में लेने के साथ-साथ अपनी पहली मोहब्बत पर फिर निशाना साधेंगी भाजपा MLA श्रेयसी

राजनैतिक विरासत की बागडोर हाथों में लेने के साथ-साथ अपनी पहली मोहब्बत पर फिर निशाना साधेंगी भाजपा MLA श्रेयसी

डेस्क...   गूगल श्रेयसी सिंह को अर्जुन अवार्डी शूटर की जगह पॉलिटिशयन लिखने लगा। जमुई के लोग श्रेयसी सिंह को बिहार विधानसभा में अपना प्रतिनिधि मानने लगे हैं। लेकिन, श्रेयसी सिंह ने पहला प्यार नहीं भुलाया है। बिहार के जमुई से भाजपा से MLA बनने के बाद भी श्रेयसी सिंह ने नई दिल्ली में होने वाली ISSF (इंटरनेशनल शूटिंग स्पोट्‌र्स फेडरेशन) वर्ल्ड कप में भाग लेने वाली भारतीय टीम में अपनी जगह बना ली है। उन्होंने खुद ही सोशल मीडिया पर पहले प्यार से अपने जुड़ाव का खुलकर इजहार किया है।

श्रेयसी सिंह ने सांसद पिता स्व. दिग्विजय सिंह की राजनीतिक विरासत को छोड़कर शूटिंग से प्यार किया। राष्ट्रमंडल खेलों में गोल्ड तक जीत चुकीं श्रेयसी को अर्जुन अवार्ड मिल चुका है। श्रेयसी सिंह की मां पुतुल कुमारी भी सांसद रही हैं। नवंबर में हुए बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान श्रेयसी सिंह की भाजपा में आश्चर्यजनक तौर पर एंट्री हुई और जमुई विधानसभा सीट भी कन्फर्म कर दी गई। भाजपा ने जैसे ही श्रेयसी के लिए अपनी ओर से सीट पक्की की, जमुई विधानसभा क्षेत्र के लोगों ने अपनी इंटरनेशनल शूटर बेटी की जीत भी पक्की कर दी। श्रेयसी सिंह के सामने निर्दलीय सुजाता भले दूसरे नंबर पर रहीं, लेकिन उन्हें 9.65 प्रतिशत ही वोट मिले जबकि इंटरनेशनल शूटर ने 43.89 प्रतिशत वोट हासिल किए थे

नई दिल्ली में ISSF वर्ल्ड कप राइफल/पिस्टल/शॉटगन का आयोजन 18 से 29 मार्च तक किया जाएगा। महिला ट्रैप इवेंट की इस टीम में श्रेयसी सिंह के साथ पंजाब की राजेश्वरी कुमारी और मध्यप्रदेश की मनीष कीर भी शामिल होंगी। इसके लिए नई दिल्ली के डॉ. कर्णी सिंह शूटिंग रेंज में चल रही राष्ट्रीय निशानेबाजी ट्रायल्स के महिला ट्रैप इवेंट T-2 ट्रायल में बिहार की श्रेयसी सिंह ने क्वालीफाइंग में 112 अंक हासिल किए। इस ट्रायल में पंजाब की राजेश्वरी सिंह को 112 अंक और मध्यप्रदेश की मनीष कीर को 112 अंक मिले। श्रेयसी सिंह तीसरे पायदान पर रहीं, लेकिन वह वर्ल्ड कप में बेहतरीन प्रदर्शन के लिए तैयारी में लग गई हैं। 17 जनवरी को नई दिल्ली के ट्रायल से भाग लेकर वह बिहार लौट आईं और जनप्रतिनिधि की जिम्मेदारी निभाते हुए शूटिंग की तैयारी को पूरा समय देने की बात कही।

राष्ट्रमंडल खेलों में गोल्ड जीत चुकी हैं श्रेयसी

श्रेयसी सिंह ने 2014 में ग्लास्गो राष्ट्रमंडल खेलों की शूटिंग इवेंट के महिला डबल ट्रैप में रजत, जबकि 2018 में गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में इसी स्पर्धा में स्वर्ण पदक अपने नाम किया था। वर्ष 2014 में इचोन एशियाई खेलों में उन्होंने कांस्य पदक अपने नाम किया था। इसके अलावा कॉमनवेल्थ शूटिंग चैंपियनशिप-2010 की ट्रैप स्पर्धा में रजत और ब्रिसवेन कॉमनवेल्थ शूटिंग चैंपियनशिप में भी रजत पदक अपने नाम किया था। वर्ष 2018 में श्रेयसी सिंह को अर्जुन अवार्ड से नवाजा गया था।


Find Us on Facebook

Trending News