JDU नेत्री को CM नीतीश का अलग से 'टाईम' चाहिए, समय देने के लिए अड़ गई मोतिहारी की महिला फरियादी

JDU नेत्री को CM नीतीश का अलग से 'टाईम' चाहिए, समय देने के लिए अड़ गई मोतिहारी की महिला फरियादी

PATNA:  मुख्यमंत्री के जनता दरबार में आई एक महिला फरियादी ने नीतीश कुमार से अलग से टाइम मांगने लगी। महिला एक केस में अभियुक्तों की गिरफ्तारी नहीं होने की शिकायत की थी। शिकायत देख मुख्यमंत्री ने तुरंत गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव के पास भेजने को कहा। इसके बाद मोतिहारी की महिला फरियादी जो जेडीयू नेत्री थी वो समय देने की जिद पर अड़ गई।

महिला फरियादी ने सीएम नीतीश के सामने रखी बड़ी मांग 

महिला फरियादी मोतिहारी की जेडीयू नेत्री कुमकुम सिन्हा थी। उसने मुख्यमंत्री से कहा कि इस समस्या के अलावे हमारी एक और समस्या है। आपका हमें अलग से टाइम चाहिए। हम आपसे अलग से मिलना चाहते हैं। जेडीयू नेत्री कुमकुम सिन्हा ने कहा कि पार्टी संबंधी बात करना चाहते हैं। आपसे काफी दिनों से बात करने की कोशिश कर रहे हैं। सुरक्षाकर्मी जेडीयू नेत्री कुमकुम सिन्हा को हटाने की कोशिश करने लगे, लेकिन वो समय की मांग करती रही। इसके बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि आप अधिकारी के पास जाकर अपनी पूरी बात बताएं.  


सीएम नीतीश ने डीजीपी को लगाया फोन

बेतिया से आई महिला ने मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी बेटी की ससुराल वालों ने जहर देकर हत्या कर दी। शादी के 26 दिनों बाद ही उसका पति,सास-ससुर ने मिलकर हत्या कर दी। लेकिन आज तक कोई कार्रवाई नहीं की गई। थाना 12 लाख रू में बिक गया है। लड़के का बाप आज ड्यूटी कर रहा है। पूरे मामले में थाना पूरी तरह से बिक गया है। हमें न्याय दीजिए। इस पर मुख्यमंत्री ने डीजीपी को फोन लगाकर कहा कि महिला की शिकायत पर तुरंत एक्शन लीजिए। 

भू माफियाओं का आतंक 

एक फरियादी ने सीएम नीतीश ने कहा कि हुजूर दाखिल खारिज में भारी गड़बड़ी की जा रही है। अंचलाधिकारी भू माफियाओं से मिलकर दाखिल खारिज आवेदन खारिज कर रहे हैं। बता दें, आज के जनता दरबार में अधिकांश मामले जमीन से जुड़े हुए आ रहे हैं। अंचल स्तर से हो रही गड़बड़ी की शिकायत लेकर फरियादी मुख्यमंत्री के पास पहुंच रहे। कई फरियादियों ने सीएम नीतीश से कहा कि स्थानीय थाना और अंचल जमीन से जुड़े मामलों में न्याय नहीं मिल रहा। एक फरियादी ने सीएम नीतीश से कहा कि गांव के दबंग लोग सरकारी सड़क को बंद कर दिये हैं। इस पर मुख्यमंत्री ने गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव को फोन कर कहा कि देखिए इस मामले को।  

Find Us on Facebook

Trending News