बिहार में घूसते ही चलती ट्रेन से गायब हो गई एक करोड़ की ज्वेलरी, पटना जंक्शन पर रेल पुलिस ने दर्ज किया मामला

बिहार में घूसते ही चलती ट्रेन से गायब हो गई एक करोड़ की ज्वेलरी, पटना जंक्शन पर रेल पुलिस ने दर्ज किया मामला

PATNA : कुछ दिन पहले दुरंतो एक्सप्रेस में लूट की बड़ी घटना हुई थी, जिसके बाद रेल यात्रियों की सुरक्षा पर सवाल उठे थे। अब एक बार फिर से बिहार में चलती ट्रेन में बड़ी चोरी की घटना सामने आई है। इस बार चोरों ने हजारों लाखों नहीं बल्कि एक करोड़ से अधिक की ज्वेलरी पर हाथ साफ कर दिया। ट्रेन में सफर कर रहे यात्री को इस चोरी की घटना की जानकारी तब हुई, जब ट्रेन पटना जंक्शन पहुची। जहां उन्होंने रेल पुलिस थाने में चोरी की घटना के बारे में मामला दर्ज कराया। जब यह मामला सामने आया तो रेल पुलिस और RPF के बीच जबरदस्त हड़कंप मच गया है। 

चोरी की ये बड़ी वारदात राजस्थान के भगत की कोठी से असम के कामख्या जा रही 15623 डाउन एक्सप्रेस ट्रेन में हुई है । वो भी AC कोच के अंदर।  बताया गया कि असम निवासी  मनोज कुमार जैन का AC के A- 2 कोच में बर्थ नंबर 28 पर रिजर्वेशन था। उन्हें कामख्या जाना था। राजस्थान के सुजानगढ़ स्टेशन से मनोज कुमार जैन ने अपने सफर की शुरुआत की थी।  इस ट्रेन में मनोज के साथ उनके दोस्त भंवरलाल शर्मा भी सफर कर रहे थे। जिस सोना-चांदी की चोरी हुई, वो ज्वेलरी थी। जिसे मनोज कुमार जैन ने दो अलग-अलग ट्रॉली में रखा था।  जबकि, कैश टिफिन बॉक्स करके रखा हुआ था। 

चलती ट्रेन से सोने से बनी ज्वेलरी की चोरी हुई है। जिसका वजन करीब 2 किलो है। इसकी कीमत 1 करोड़ रुपए के करीब की है। साथ में 3 लाख रुपए की कीमत की 5 किलो चांदी और 2 लाख रुपया कैश भी चोरी हुआ है। चोरी की ये बड़ी वारदात हुई है राजस्थान के भगत की कोठी से असम के कामख्या जा रही 15623 डाउन एक्सप्रेस ट्रेन में। वो भी AC कोच के अंदर। चोरी हुई सोना-चांदी और कैश सफर कर रहे पैसेंजर मनोज कुमार जैन के थे। ये असम में रहते हैं।

जिस वक्त सामान की चोरी हुई, उस वक्त मनोज गहरी नींद में थे। ट्रेन अपने टाइम से 3 घंटे 36 मिनट लेट चल रही थी। रेल पुलिस को शक है कि जब ट्रेन आरा स्टेशन से खुली तो इसके बाद ही ज्वेलरी से भरी ट्रॉली और कैश से भरा टिफिन बॉक्स चोरी हुआ। गुरुवार की सुबह 6 बजकर 26 मिनट पर ट्रेन पटना जंक्शन पहुंची। तब मनोज की नींद खुली। इसके बाद उन्हें अपनी दोंनों  ट्राॉली और टिफिन गायब मिली। दूसरी तरफ मनोज ने दावा किया कि उसका सामान पटना जंक्शन पर ही चोरी हुआ है।

FIR दर्ज कर जांच में जुटी रेल पुलिस

पूरे मामले पर पटना के प्रभारी रेल एसपी अनिल सिंह से बात की गई। इनके अनुसार पैसेंजर मनोज के लिखित शिकायत पर रेल थाना में FIR दर्ज कर ली गई है। साथ ही जांच भी शुरू कर दी गई है। पटना जंक्शन पर लगे CCTV कैमरे को खंगाला जा रहा है। शुरुआती जांच में यह बात सामने आई है कि मनोज मूल रूप से राजस्थान के सूजनगढ़ के रहने वाले हैं। परिवार में पुश्तैनी ज्वेलरी का बंटवारा हुआ था। जो ज्वेलरी इनके हिस्से में आई, उसे ही लेकर वो कामख्या जा रहे थे। रेल पुलिस ने उनसे ज्वेलरी के पेपर भी मांगे थे, पर किसी प्रकार का पेपर उनके पास नहीं था।



Find Us on Facebook

Trending News