JHARKHAND NEWS: सुदूरवर्ती गांव में पहुंचे उपायुक्त, ग्रामीणों को जागरूक कर लगवाया कोविड का टीका

JHARKHAND NEWS: सुदूरवर्ती गांव में पहुंचे उपायुक्त, ग्रामीणों को जागरूक कर लगवाया कोविड का टीका

देवघर: उपायुक्त सह जिला दण्डाधिकारी मंजूनाथ भजंत्री ने शुक्रवार को मोहनपुर प्रखंड अंतर्गत चल रहे कोविड टीकाकरण को लेकर विभिन्न वैक्सीनेशन कैम्प का निरीक्षण कर सुविधाओं व व्यस्थाओं का जायजा लिया। साथ ही उपायुक्त ने टीकाकरण कैम्प में उपस्थित एवं टीकाकरण के लिए पहुंचे लोगों का उत्साह बढ़ाया। इसके अलावे निरीक्षण के क्रम में उपायुक्त ने सुदूरवर्ती गांव बाबुपुर एवं पीपरा पहुंच कर वैक्सीनेशन सेंटर का निरीक्षण कर चल रहे कोविड टीकाकरण कार्यक्रम को शत प्रतिशत करने के उद्देश्य से ग्रामीणों को कोविड टीका लगवाने हेतु प्रेरित किया। 

इस दौरान उपायुक्त ने ग्रामीणों को जागरूक करते हुए अपनी उपस्थिति में बाबुपुर व पीपरा गांव के माध्यमिक विद्यालय केन्द्र में चल रहे टीकाकरण केन्द्र में कोविड-19 का टीका दिलवाया। साथ हीं कोविड टीका को लेकर फैली भ्रांतियों के प्रति ग्रामीणों को जागरूक करते हुए उपायुक्त ने कहा कि कोरोना महामारी को रोकने में टीकाकरण सबसे प्रभावशाली तरीका है। आप सभी की स्वास्थ्य सुरक्षा व सुविधा हेतु सुरक्षित गांव, हमर गांव अभियान चलाया जा रहा है, ताकि शत प्रतिशत जनमानस को कोविड टीका से लाभान्वित किया जा सके। उन्होंने कहा कि कोरोना वैक्सीन से जुड़ी सभी भ्रांतियां पूर्ण रूप से अपुष्ट व गलत है। कोविड वैक्सीन हम सभी के लिए पूरी तरह से सुरक्षित है। अपनी बारी आने पर वैक्सीन अवश्य लें। एक जिम्मेवार नागरिक होकर दूसरों को भी जागरुक करने का कार्य करें। वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित एवं उपयोगी है। टीकाकरण किसी बीमारी को ठीक नहीं करता, बीमारी के रोकथाम के लिए कार्य करता है। इस महामारी से बचने के लिए वैक्सीन अत्यंत महत्वपूर्ण है। अपने लिए और अपनों की सुरक्षा के लिए वैक्सीन की दोनों डोज अवश्य लें और दूसरों को भी ऐसा करने के लिए प्रेरित करें। साथ हीं वैक्सिनेशन के समय कोविड नियमों यथा-सामाजिक दुरी, मास्क का प्रयोग अवश्य रूप से करें।


निरीक्षण के क्रम में उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी द्वारा ग्रामीणों को जानकारी दी गई कि स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर करते हुए ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड टीका व कोविड नियमों के शत प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित करने के उदेश्य से सभी पंचायतों में जांच दल व सर्वे दल द्वारा जांच किया जा रहा है। इसमें स्वास्थ्य विभाग की टीम, सहिया, आंगनबाड़ी सेविका व सहायिका, सखी मंडल के सदस्यों द्वारा जांच व सर्वे कर जिन व्यक्तियों में कोरोना के लक्षण जैसे, सर्दी-बुखार, खांसी व अन्य लक्षण मिलेंगे, उनकी कोरोना जांच प्रखंड स्तर पर कर आवश्यक स्वास्थ्य सुविधा मुहैया करायी जायेगी। साथ हीं होम आइसोलेशन में रहनेवालों को होम आइसोलेशन किट दिया जाएगा। जिन मरीजों के घरों में होम आइसोलेशन की सुविधा नहीं है, उन्हें कोविड केयर सेंटरों में स्वास्थ्य सुविधा प्रदान की जाएगी। गंभीर लक्षण वाले संक्रमितों को कोविड अस्पतालों में रेफर किया जाएगा। ऐसे में आवश्यक है कि वर्तमान में संक्रमण के रोकथाम को लेकर आप सभी साफ-सफाई, बाहर निकलने पर मास्क का उपयोग व सामाजिक दूरी का अनुपालन अवश्य सुनिश्चित करें, ताकि संक्रमण की चेन को तोड़ा जा सके। 

Find Us on Facebook

Trending News