JHARKHAND NEWS: राज्य में 1 मई से नहीं शुरू होगा टीकाकरण, स्वास्थ्य मंत्री ने बताई यह वजह

JHARKHAND NEWS: राज्य में 1 मई से नहीं शुरू होगा टीकाकरण, स्वास्थ्य मंत्री ने बताई यह वजह

DESK: देश में भले ही कोरोना टीकाकरण का तीसरा चरण 1 मई से शुरू होने वाला है. इसी बीच कई ऐसे राज्य हैं जो इस स्थिति में नहीं है कि 1 मई से टीकाकरण की शुरुआत कर सकें. इनमें से एक राज्य है झारखंड. दरअसल टीकों की कमी के वजह से झारखंड में 1 मई से 18 से 45 साल के लोगों को कोरोना की वैक्सीन नहीं लग सकेगी.

गुरूवार को राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा. बन्ना गुप्ता ने इस दौरान केंद्र पर भेदभाव करने का आरोप लगाया है. उन्होनें कहा कि झारखंड ने भारत बायोटेक और सीरम से से 25-25 लाख टीके का ऑर्डर दिया है, लेकिन वैक्सीन निर्माता कंपनियों को अभी वैक्सीन देने से हाथ खड़े कर दिए हैं. कंपनियों ने कहा है कि केंद्र सरकार का ऑर्डर पूरा करने में ही 15 से 20 मई तक का समय लग जाएगा. इसलिए झारखंड को एक मई तक वैक्सीन मिलना संभव नहीं है.

स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि केंद्र सरकार दूसरे देशों को वैक्सीन भेज रही है, लेकिन अपने देश में वैक्सीन की पूर्ती नहीं कर पा रही है उन्होनें कहा कि केंद्र सरकार ने पाकिस्तान को 45 लाख डोज दिया. भूटान को 25 लाख डोज दिया, लेकिन इस पिछड़े और गरीब राज्य को वैक्सीन, रेमडेसिविर और दवाई देने के लिए केंद्र सरकार के पास नहीं है. वहीं 2 हजार रेमडेसिविर असम से उधार लिया है. उन्होंने कहा कि 20 हजार रेमडेसिविर झारखंड को अलॉट हुआ है, मगर अभी तक नहीं मिला है.

वहीं राज्यों में ऑक्सीजन की कमी के सवाल पर स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि झारखंड में ऑक्सीजन की कोई किल्लत नहीं है. यहां 5 हजार टन ऑक्सीजन रिजर्व है. उन्होंने बताया कि यहां 18 रिफिलिंग प्लांट है. एक प्लांट 500-600 सिलिंडर रिफिलिंग कर रहा है. ऑक्सीजन के बेड लगातार बढ़ रहे हैं. इसे ध्यान में रखते हुए 17000 सिलेंडर खरीदने का प्रस्ताव भेजा गया है.

Find Us on Facebook

Trending News