किसान परिवार से हो इस बार भभुआ विधानसभा का उम्मीदवार तभी होगी जीत : विमलेश पांडे

किसान परिवार से हो इस बार भभुआ विधानसभा का उम्मीदवार तभी होगी जीत : विमलेश पांडे

KAIMUR : विधानसभा चुनाव आते हीं अब बीजेपी में भी उम्मीदवारों को लेकर कार्यकर्ताओं की डिमांड बढ़ने लगी है. भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष विमलेश पांडे ने अपने भाजपा के वरीय नेताओं से आग्रह किया है कि भाजपा की अगर जीत भभुआ विधानसभा क्षेत्र में करानी चाहती है तो किसान परिवार से जुड़े और भभुआ विधानसभा क्षेत्र से ही उम्मीदवार को लाना होगा. अन्यथा कार्यकर्ताओं में बहुत ही असंतोष है. 

अगर इनके अलावा कोई उम्मीदवार आता है तो चुनाव के हालात कुछ और हो जाएंगे. उन्होंने आरोप भी लगाया की प्रधानमंत्री द्वारा किसानों के हित के लिए कई योजनाएं चलाई गई. लेकिन सिस्टम ऐसा है कि किसानों तक लाभ नहीं पहुंच पा रहा है. किसानों के उपज का आज भी बाजारों में सही मूल्य नहीं मिल रहा. 

भारतीय जनता पार्टी के किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष विमलेश पांडे बताते हैं की भभुआ विधानसभा के साथ साथ कैमूर कृषि बहुल्य इलाका है. उसी कार्यकर्ता को पार्टी चुनाव लड़ाये जो किसानों के सुख-दुख को समझ सके. अगर भभुआ विधानसभा क्षेत्र से बाहर के प्रत्याशी आते हैं तो सभी कार्यकर्ताओं को कष्ट होगा. इस पर वरीय नेताओं को विचार करना होगा. अब पार्टी के कार्यकर्ता भी ऐसे हालात को देखकर दुखी हैं. 

कार्यकर्ताओं को भी अब मान सम्मान नहीं मिल रहा है. 2010 के चुनाव में जब आनंद भूषण जी प्रत्याशी थे तो उसमें प्रचार प्रसार के लिए हेलीकाप्टर उतारने के लिए हमने अपने खेतों में लगी हरे धान की फसल जो 8 एकड़ में थी उसको हार्वेस्टर चला कर कटवा डाला था, जिससे कि प्रचार के लिए हेलीकॉप्टर को उतारा जा सके. मैं 20 सालों से पार्टी का झंडा ढो रहा हूं पार्टी के लोगों को ध्यान रखना चाहिए. देश के प्रधानमंत्री द्वारा किसानों के लिए कुछ योजनाएं तो चलाई गई. लेकिन ऐसा सिस्टम है कि बिचौलिए किसानों तक उस लाभ को पहुंचने नहीं दे रहे हैं. किसानों द्वारा उपजाए गये धान और गेहूं का बजारों में मूल्य नहीं मिलता है. जिससे किसानों को अर्थिक संकट का सामना करना पड़ रहा है. 

कैमूर से देवब्रत की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News