नीतीश कुमार को फेल बताने पर परेशान हो गए ललन सिंह, BJP पर किया तंज 36752 वोट से 1794 पर आ गएं फिर भी जनाधार दिखता है...वाह भाई वाह

नीतीश कुमार को फेल बताने पर परेशान हो गए ललन सिंह, BJP पर किया तंज  36752 वोट से 1794 पर आ गएं फिर भी जनाधार दिखता है...वाह भाई वाह

PATNA : बिहार में दो सीटों पर हुए उप चुनाव के रिजल्ट आ चुके हैं, जिसमें गोपालगंज सीट बीजेपी और मोकामा सीट राजद के हिस्से में गई। लेकिन चुनाव परिणाम आने के लगभग एक सप्ताह बाद भी बिहार की राजनीति में इन परिणामों को लेकर चर्चा जारी है। जहां बीजेपी चुनाव परिणाम को लेकर संतुष्ट नजर आ रही है। साथ ही नीतीश कुमार और ललन सिंह की जदयू के प्रदर्शन को लेकर सवाल उठा रही है। वहीं दूसरी तरफ जदयू भी गोपालगंज के चुनाव परिणाम को लेकर भाजपा पर निशाना साधने में पीछे नहीं है। जदयू को फेलियर और नीतीश कुमार की विपक्षी एकता को एक साथ करने की मुहिम को टांय-टांय फिस्स बताने सुशील मोदी को ललन सिंह ने गोपालगंज चुनाव परिणाम के जरिए सच्चाई का आइना दिखाया है। ललन सिंह ने कहा 2024 तक इंतजार कीजिए, कौन टांय-टांय फिस्स होगा पता चल जाएगा

ललन सिंह ने सुशील मोदी के ट्विट पर जवाब देते हुए लिखा कि  सुशील जी, विपक्षी एकता की मुहिम टांय-टांय फिस्स होगी या 2024 में भाजपा मुक्त भारत का आगाज़ होगा ये  समय बताएगा। 36752 वोट से 1794 पर आ गएं फिर भी जनाधार दिखता है...वाह भाई वाह..! बड़का झुट्ठा पार्टी की फितरत ही है 'एक झूठ को सौ बार बोलना', आप इसी फितरत के शिकार हैं। लगे रहिए

बता दें एक दिन पहले सुशील मोदी ने नीतीश कुमार की विपक्षी एकता को एकजुट करने की कोशिश टांय-टांय फिस्स हो गई।  बिहार के बाहर नीतीश कुमार कोई पूछ नहीं है, वहीं बिहार में भी उनकी लोकप्रियता लगातार कम होती जा रही है। पहले केसीआर ने उनके प्रस्ताव को नकार दिया। केजरीवाल ने भी उन्हें महत्व नहीं दिया। बिहार में दो सीटों के चुनाव परिणाम बताते हैं कि महागठबंधन में शामिल होने के बाद भी राजद को जदयू के वोट नहीं मिले। राजद यह बात समझ गई है कि नीतीश कुमार अब वोट ट्रांसफर नहीं करा सकते हैं। जनता उनकी हकीकत जान चुकी है।

Find Us on Facebook

Trending News