अमित शाह के बयान से बौखलाए ललन सिंह ! BJP बोली- डर से छाती पीट रहे, कुछ लोग 'जेबी' पार्टी में बड़े नेता बन गये हैं

अमित शाह के बयान से बौखलाए ललन सिंह ! BJP बोली- डर से छाती पीट रहे, कुछ लोग 'जेबी' पार्टी में बड़े नेता बन गये हैं

PATNA: देश के गृह मंत्री अमित शाह बिहार के दौरे पर हैं. 23 सितंबर को पूर्णिया की जनसभा में अमित शाह ने सीएम नीतीश और लालू प्रसाद को खूब खरी-खोटी सुनाई थी। लगे हाथ जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह का भी मजाक उड़ाया था। अमित शाह ने ललन सिंह को नया-नया नेता बताकर तंज कसा था। अमित शाह के इस बयान के बाद ललन सिंह बौखला गये हैं. शुक्रवार को भी ललन सिंह ने अमित शाह को घेरा था. आज सुबह से ही जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह अमित शाह के खिलाफ ताबड़तोड़ ट्वीट कर रहे। इसके बाद बीजेपी ने बिना नाम लिये ललन सिंह के बारे में कहा कि अमित शाह के बिहार आने से वे छाती पीट रहे। साथ ही ललन सिंह को राजनीतिक मशखरा करार दिया। बिहार बीजेपी ने कहा कि अमित शाह की ताकत को देश के लोगों ने देखा है, जब एक झटके में कश्मीर से धारा 370 को हटा दिया था। 

छाती पीट रहे बिहार के कुछ नेता 

बिहार बीजेपी के प्रवक्ता डॉ. निखिल आनंद ने बिना नाम लिये ललन सिंह पर बड़ा पॉलिटिकल प्रहार किया है। उन्होंने कहा कि अमित शाह के बिहार दौरे से विपक्ष के कुछ नेताओं के पेट में दर्द है तो कुछ के माथे में तेज दर्द है। कुछ लोग तो छाती पीट रहे और हाय तौबा मचा रहे हैं. दुर्भाग्य है कि कुछ नेता जेपी आंदोलन का हवाला देकर उन पर हमला कर रहे हैं.ललन सिंह का नाम लिये बिना बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि कुछ लोग कह रहे हैं कि गृह मंत्री जी की उम्र 10 साल की थी तब से हम राजनीति कर रहे। अरे भाई...सबको पता है कि हमारे गृह मंत्री युवा पीढ़ी के नेता हैं. उनकी कुबत तो देश की जनता जानती है, जब उन्होंने कश्मीर से धारा 370 और 35a हटा कर दिखा दिया. उनकी ताकत सभी लोग जानते हैं.

जेपी आंदोलन में शामिल हो गए थे कुछ छुटभैये और मशखरे टाइप के लोग

बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि बड़े लोग और राजनीतिक प्रेक्षक बताते हैं कि बड़े नेताओं के साथ कुछ छुटभैया और मशखरे टाइप के लोग जेपी आंदोलन में सक्रिय हो गए थे. जिनका काम नेताओं को खुश रखना और मनोरंजन करना था. ऐसे कई नेता इन दिनों जेपी सेनानी बन गए हैं . कई लोग जेबी पार्टी में बड़े नेता बन गए हैं. दुर्भाग्य है कि वैसे लोग जेपी सेनानी का पेंशन ले रहे हैं. बड़ी सेना संख्या में जेपी सेनानी पेंशन से वंचित हैं.जो ईमानदार थे और जिन्होंने जेपी आंदोलन में संघर्ष किया था उन्हें पेंशन से वंचित रखा गया।

ताबड़तोड़ हमला कर रहे ललन सिंह

बता दें, ललन सिंह ने आज एक के बाद एक चार ट्वीट किये हैं. जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने ट्वीट कर अमित शाह पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि देश के माननीय जुमलेबाज गृहमंत्री अमित शाह जी, आप जब सिर्फ 10 वर्ष के थे, तब से मैं राजनीति में सक्रिय हूं। मेरा राजनीतिक जीवन 1974 के छात्र आंदोलन के संघर्ष के साथ प्रारंभ हुआ है। पता नहीं आप का राजनीतिक जीवन किस संघर्ष से शुरू हुआ है . अगले ट्वीट में लिखते हैं-देश के माननीय जुमलेबाज अमित शाह जी.........बड़बोला टिप्पणी अहंकार का द्योतक होता है। आपको आत्मचिंतन की सख़्त जरूरत है। फिर लिखते हैं- जुमलेबाज मा. गृहमंत्री जी, पूर्णिया हवाई अड्डा कब बन गया, बताइए तो जरा ? कृपया हमारा ज्ञानवर्धन कीजिए। कम से कम अब तो बिहार के लोगों क़ो ठगना बंद कीजिए। सोचिए जिस देश का गृहमंत्री ही जुमलेबाज हो, उस देश का भविष्य क्या होगा ? अब तो भाजपा मुक्त देश ही एक मात्र विकल्प है . अपने चौथे ट्वीट में लिखते हैं- झूठ बोलकर ताली बजाने की मांग करने वाले देश में अबतक के अनोखे माननीय गृहमंत्री AmitShah जी, बिहार और देश के लोगों को अब ठगना बंद कीजिए। जिस देश का गृहमंत्री जुमलेबाज़ हो उस देश का भविष्य क्या होगा...! 2024 में भाजपा-मुक्त भारत बनकर रहेगा। 

Find Us on Facebook

Trending News