मारपीट में दूसरे का पक्ष लेना पड़ा महंगा, घर से बुलाकर व्यक्ति को गोलियों से भुन डाला, रेलवे लाइन के किनारे मिली लाश

मारपीट में दूसरे का पक्ष लेना पड़ा महंगा, घर से बुलाकर व्यक्ति को गोलियों से भुन डाला, रेलवे लाइन के किनारे मिली लाश

लखीसराय। में दो पक्षों के विवाद में बीच-बचाव के लिए आए एक अधेड़ की अपराधियों ने गोलियों से भूनकर हत्या कर दी। बदमाशों ने अधेड़ को बुधवार की दोपहर को पांच गोली मारी, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई है। मृतक की पहचान भरत राम पिता अर्जुन राम 46 साल के रूप में की गई है। पुलिस ने उसका शव  इंदुपुर रेलवे ट्रैक के किनारे बरामद किया गया है। पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए एक आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। 

मामले में मृतक के पुत्र के मुताबिक दो दिन पूर्व रज्जू व उनके पुत्र सोनू, राजा सहित दो अन्य की मारपीट मुनचुन के साथ हुई थी। उनके पिता भरत राम ने मुनचुन सिंह का सपोर्ट किया था। बुधवार की सुबह रज्जू उनके पिता को घर से बुलाकर ले गए थे। इसकी जानकारी पुलिस को दी गई, तो पुलिस ने तत्काल भरत राम की तलाश शुरू कर दी। हालांकि दोपहर बाद रेलवे ट्रैक के किनारे भरत का शव पाया गया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है।  एसडीपीओ रंजन कुमार के मुताबिक मृतक के शरीर पर फिल्हाल चार गोलियों के निशान देखे गए हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा कि उन्हें कितनी गोलियां मारी गई है। इस मामले में पुलिस ने रज्जू को गिरफ्तार कर लिया है। अन्य की गिरफ्तारी के लिए तलाश जारी है। 

दो दिन पहले मारपीट से जुडे़ हैं हत्या के तार
बताया जा रहा है कि दो दिनों पूर्व दोनों पक्षों में हुई मारपीट के बाद दोनों पक्षों से काउंटर एफआईआर हुआ था। पुलिस इस मामले में कार्रवाई भी कर रही थी। इसी बीच भरत को घर से बुलाकर ले जाने के बाद परिजनों को कुछ अनहोनी का संदेह होने लगा और शाम में दुखद खबर आई। भरत राम पेशे से चापाकल का मिस्त्री का काम करता था

Find Us on Facebook

Trending News