समस्तीपुर रेल मंडल में चलते हैं सबसे ज्यादा बेटिकट रेल यात्री, ECR के आंकड़े दे रहे हैं गवाही

समस्तीपुर रेल मंडल में चलते हैं सबसे ज्यादा बेटिकट रेल यात्री, ECR  के आंकड़े दे रहे हैं गवाही

PATNA : रेलवे में बिना टिकट यात्रा करनेवालों की संख्या में कमी नहीं आ रही है। नतीजा यह है कि फ्री सफर करने के चक्कर में वह रेलवे की आमदनी बढ़ाते जा रहे हैं। सिर्फ पूर्व मध्य रेलवे की बात करें तो बिना टिकट सफर करनेवाले यात्रियों से यहां एक माह में 20 करोड़ की राशि वसूली गई है। यह रकम 3.30 लाख हजार यात्रियों से वसूले गए। ECR के पीआरओ राजेश कुमार की मानें तो बिना टिकट यात्रा की रोकथाम को लेकर लगातार अभियान चलाए जा रहे हैं. इससे लोगों को तो समस्याएं होती ही है, रेलवे को भी नुकसान होता है

बताया गया कि पूर्व मध्य रेल के पांचों मंडलों में अधिकारियों की अलग-अलग टीम बनाकर स्टेशन एवं ट्रेनों में विशेष टिकट जांच अभियान चलाया जा रहा है. नवम्बर, 2021 में बिना टिकट यात्रा के कुल 3 लाख 49 हजार 340 मामले सामने आए. जिनसे जुर्माने के रूप में 20 करोड़ 10 लाख से अधिक का राजस्व प्राप्त हुआ. विदित हो कि कोविड काल के पूर्व नवंबर, 2019 की तुलना में नवंबर, 2021 में बिना टिकट/उचित प्राधिकार के यात्रा एवं दंडस्वरूप प्राप्त होने वाला राजस्व क्रमशः 3.05 प्रतिशत एवं 40.67 प्रतिशत अधिक है.

इस दौरान दानापुर मंडल में 91.50 हजार लोगों को बिना टिकट/उचित प्राधिकार के पकड़ा गया. इनसे दंडस्वरूप लगभग 5 करोड़ 42 लाख रूपए रेल राजस्व के रूप में प्राप्त हुआ. इसी तरह सोनपुर मंडल में 58.89 हजार लोगों से 3.38 करोड़ से अधिक रूपए, पंडित दीन दयाल उपाध्याय मंडल में 48.50 हजार लोगों से 2.70 करोड़ रूपए, समस्तीपुर मंडल में 94.19 हजार लोगों से 6.16 करोड़ तथा धनबाद मंडल में बिना टिकट/उचित प्राधिकार के यात्रा करते हुए 56.27 हजार लोगों से 2.42 करोड़ से अधिक की राशि रेल राजस्व के रूप में प्राप्त हुआ.


Find Us on Facebook

Trending News