अग्रणी होम्स की नई चालः सैकड़ों ग्राहकों के करोड़ों रू भुगतान नहीं होने का ठिकरा RERA पर फोड़ा, पैसा वापसी के लिए दिया नया प्रस्ताव

अग्रणी होम्स की नई चालः सैकड़ों ग्राहकों के करोड़ों रू भुगतान नहीं होने का ठिकरा RERA पर फोड़ा, पैसा वापसी के लिए दिया नया प्रस्ताव

PATNA:  पटना की अग्रणी होम्स कंपनी के फेरा में हजारो लोग फंसे हैं। बिल्डर ने न तो फ्लैट दिया और न पैसे लौटाये। विवश होकर हजारो लोगों ने रेरा में केस दर्ज कराया है। कई केस में तो रेरा ने अग्रणी होम्स के खिलाफ कार्रवाई की भी की है। रेरा ने बिल्डर की कई प्रोपर्टी को जब्त कर लिया है। साथ ही अकाउंट को भी फ्रीज किया है।यूं कहें कि अग्रणी होम्स बिहार की डिफाल्टर कंपनी हो गई है। अब अग्रणी होम्स ने नई चाल चली है और ग्राहकों का पैसा वापस नहीं करने का ठिकरा रेरा पर ही फोड़ा है। 

अग्रणी होम्स की नई चाल

बिहार की डिफॉल्टर कंपनी अग्रणी होम्स ने रेरा के अध्यक्ष एवं सदस्य को एविडिविट दिया है। कंपनी के निदेशक आलोक कुमार की तरफ से पत्र में कहा गया है कि मैं आपके आदेश का अनुपालन करते हुए सभी ग्राहकों का भुगतान चाहता हूं. इसके लिए हमारे पास संपत्ति एवं अन्य व्यवसाय के स्रोत हैं कि सभी का भुगतान हो जाए. लेकिन बड़े दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि आपके आदेशों के कारण ही मैं भुगतान करने में समर्थ नहीं हूं.

सारी संपत्ति पर रोक तो कैसे करूं भुगतान

निदेशक ने आगे कहा कि मेरी संपत्ति के सारे दस्तावेज आपके पास हैं. रजिस्ट्री पर रोक लगी हुई है, सारे बैंक अकाउंट फ्रीज हैं .किसी भी प्रोजेक्ट के अप्रूवल और एक्सटेंशन पर रोक हैं. मेरे ग्राहकों को बैंक लोन नहीं मिल सकता है. कंस्ट्रक्शन मैं कैसे खींच रहा हूं मैं ही जानता हूं. आप एक तरफ से भुगतान कब करोगे यह सवाल पूछते हैं और उसके बाद एक्सक्यूशन को कहते हैं. लेकिन मैं ऐसा महसूस कर रहा हूं कि मेरे ऊपर ऑलरेडी एक्सक्यूशन हो रखा है. पिछले 4 सालों से मैं आपके समक्ष बना हुआ हूं. फिर भी आपके द्वारा कहा जा रहा कि मैं भाग जाऊंगा ,लेकिन अभी तक भागा नहीं हूं. यह विश्वास-अविश्वास की कहानी अब खत्म होनी चाहिए. अन्यथा भुगतान नहीं हो पाएगा. अग्रणी होम्स के निदेशक ने कहा कि आपके(रेरा) के आदेश के अनुसार भुगतान के लिए कुछ तार्किक प्रपोजल भेज रहा हूं .इसे स्वीकार करें ताकि ग्राहकों का भुगतान सुनिश्चित हो .अग्रणी होम्स ने धवलपुरा की जमीन बेचने के संदर्भ में प्रस्ताव दिया है। साथ ही प्रकृति विहार समेत अन्य संपत्ति के बारे में भी रेरा को प्रस्ताव दिया है।

Find Us on Facebook

Trending News