विश्वेश्वरैया भवन में सोमवार से खुलेंगे कार्यालय, आईआईटी की टीम ने जांच के बाद दी हरी झंडी

विश्वेश्वरैया भवन में सोमवार से खुलेंगे कार्यालय, आईआईटी की टीम ने जांच के बाद दी हरी झंडी

PATNA : तीन दिन पहले आग से क्षतिग्रस्त हुए विश्वेश्वरैया भवन में सोमवार से फिर काम शुरू हो सकेगा। शुक्रवार को आइआइटी पटना के विशेषज्ञों की टीम ने विश्वेश्वरैया भवन की हर मंजिल पर जाकर सुरक्षा के प्रत्येक कोण से जांच की। जिसके बाद इमारत को काम फिर से शुरू करने के लिए सुरक्षित बताया है। टीम की अध्यक्षता आइआइटी, पटना के सिविल एवं पर्यावरण अभियांत्रिकी विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ वैभव सिंघल ने की

अभी चौथी मंजिल तक ही जाने की अनुमति

आईआईटी की टीम ने इमारत की जांच के बाद चौथी मंजिल तक भवन को सुरक्षित पाया। शनिवार और रविवार को चौथी मंजिल तक बिजली के वायरिंग की जांच की जायेगी। सोमवार से यहां सामान्य कामकाज हो सकेगा। वहीं, पांचवीं और छठी मंजिल की सफाई करवाने के बाद एक बार फिर से जांच की जरूरत बतायी। पांचवीं और छठी मंजिल पर सिर्फ सफाईकर्मी जा सकेंगे। कर्मियों के लिए वहां प्रवेश की इजाजत नहीं है। टीम ने अपनी लिखित रिपोर्ट भवन निर्माण विभाग के सचिव कुमार रवि को दे दी।

दूसरे भवन से शिफ्ट होंगे विभाग

पटना तक के कार्यालय सोमवार से खुल सकेंगे. फिलहाल, पांचवीं और छठी मंजिल के कार्यालयों को बंद रखा जायेगा। इन कार्यालयों को किसी दूसरे भवन में शिफ्ट करने तैयारी की जा रही है।

पर्यटन भवन में शिफ्ट होगा ग्रामीण कार्य विभाग

आग लगने से सबसे अधिक नुकसान ग्रामीण कार्य विभाग को हुआ है. इस विभाग का अधिकतर कार्य पांचवीं मंजिल से ही संचालित होता था। विभाग को मुख्य सचिवालय के विस्तारित भवन में पर्यटन निगम के कार्यालय के पास जगह मिलने की संभावना है। उम्मीद है कि सोमवार से ग्रामीण कार्य विभाग के कर्मी नये स्थल से बैठकर काम कर सकेंगे. फिलहाल ग्रामीण कार्य विभाग के सचिव और चीफ इंजीनियर सहित अन्य आला अधिकारी पुल निर्माण निगम के कार्यालय में बैठकर काम कर रहे हैं।


Find Us on Facebook

Trending News