दिल्ली के सीएम के नजदीकी विधायक का नाम आते ही पटना पुलिस कदम किए पीछे, एयरपोर्ट पर हथियार के साथ पकड़े जाने पर भी नहीं की कार्रवाई

दिल्ली के सीएम के नजदीकी विधायक का नाम आते ही पटना पुलिस कदम किए पीछे, एयरपोर्ट पर हथियार के साथ पकड़े जाने पर भी नहीं की कार्रवाई

PATNA : अब तक पटना की पुलिस बिहार के नेताओं और उनके रिश्तेदारों पर कार्रवाई करने से कतराती थी, लेकिन अब स्थिति यह है कि दिल्ली के विधायक से जुड़े लोगों पर भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है और विधायक का नाम सुनकर ही गुनाह माफ कर थाने से छोड़ दिया जा रहा है। 

मामला पटना के एयरपोर्ट थाने से जुड़ा है। सूत्रों से मिली जनकारी के अनुसार यहां 32 साल के एक व्यक्ति को पटना एयरपोर्ट से सीआईएसएफ ने तब पकड़ा, जब वह बीती रात नौ बजे स्पाइसजेट की फ्लाइट संख्या एसजी-8930 से पटना से नई दिल्ली जाने के इस दौरान चेकिंग में उस व्यक्ति के हैंडबैग से सीआईएसफ ने एक हथियार और एक जिंदा कारतूस बरामद किया गया। पूछताछ में पता चला कि उन हथियारों का न कोई लाइसेंस था, न ही वैध दस्तावेज उपलब्ध था। जिसके बात सीआईएसफ ने उस व्यक्ति को आगे की कार्रवाई के लिए एयरपोर्ट थाने के सुपुर्द कर दिया। 

आप विधायक अमानुल्लाह का नाम आया सामने

एयरपोर्ट थाने भेजे गए व्यक्ति ने जब अपना परिचय दिया तो पुलिस के होश उड़ गया। व्यक्ति ने बताया कि उसका नाम सुल्तान अहमद हैं और उनके पिता नोमान अहमद दिल्ली के ओखला से विधायक अमानुल्लाह के निजी सचिव हैं। इस दौरान सुल्तान अहमद ने पुलिस को बताया कि उनके बैग में मिले हथियार के बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं है कि वह बैग में कैसे आया, वह इसको लेकर पूरी तरह से अनजान हैं। बताया जा रहा है कि मामले में जांच करने की जगह पुलिस ने दिल्ली के विधायक का नाम सुनकर ही पकड़े गए व्यक्ति को थाने से छोड़ दिया। 


पीआर बॉन्ड भरकर छोड़ा गया

मामले में अब एयरपोर्ट थाने की तरफ से बताया गया है कि पकड़े विधायक के निजी सचिव के पास से विधायक का एक लेटर हेड मिला है, जिसमें बरामद बरामद कारतूस को लेकर जानकारी दी गई है। पुलिस के अनुसार यह कारतूस गलती से बैग में छूट गया था,  जिसके कारण सिर्फ पीआर बॉंड भरकर छोड़ दिया गया। बताया गया कि वह पटना के निजी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पहुंचे थे।



Find Us on Facebook

Trending News