चिराग को चुन कर पछता रही 'जमुई' की जनता! लापता 'सांसद' की तलाश में जगह-जगह लगे पोस्टर, खोजकर लाने वालों को मिलेगा इनाम

चिराग को चुन कर पछता रही 'जमुई' की जनता! लापता 'सांसद' की तलाश में जगह-जगह लगे पोस्टर, खोजकर लाने वालों को मिलेगा इनाम

JAMUI : जमुई से लोजपा सांसद व पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लापता हो गए हैं? सांसद को ढूंढ़कर लाने वाले को उचित इनाम दिया जाएगा। कोरोना काल में जिला मुख्यालय में इस तरह के लगाए गए दर्जनों पोस्टर ने खलबली मचा दी है। कोरोना काल में जहां एक ओर जमुई लोकसभा क्षेत्र की जनता कोरोना से बचाव को लेकर जद्दोजहद कर रही है। वहीं दूसरी ओर जमुई के सांसद को ढूढ़ने को लेकर लगाए पोस्टर ने न केवल जमुई की बल्कि पूरे बिहार की सियासत में भूचाल ला दिया है। जमुई की जनता ये जानने की कोशिश कर रही है कि इस संकट की घड़ी में उनके सांसद कहां गुम हो गए हैं।

दरअसल एक राजनीतिक दल जनशक्ति विकास पार्टी (डे) की ओर से जिला मुख्यालय में लगाए गइ इस तरह के पोस्टर ने जिला के राजनीतिक तापमान को इस भीषण गर्मी में और बढ़ा दिया है। इस पोस्टर में लिखा है की चुनाव ही लड़ेंगे या इस कोरोना जैसे आपदा में जमुई की माटी का कर्ज भी उतारेंगे! लापता सांसद की जानकारी किसी को हो तो जरूर बताएँ, बताने वाले को उचित इनाम दिया जाएगा

जनशक्ति विकास पार्टी (डे) के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रदीप कुमार सिंह ने सवाल उठाया कि इस त्रासदी के समय पूछना जरूरी है कि सांसद कहां है? क्षेत्र से लापता क्यों हैं? प्रदीप सिंह ने आरोप लगाया कि जब जनता को अपने जनप्रतिनिधि की जरुरत है तो ऐसे वक्त में सांसद क्षेत्र से लापता हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि पिछले पांच-छह महीनों से वह अपने क्षेत्र में नहीं आए हैं। उन्होंने कहा कि सांसद चिराग पासवान जमुई लोकसभा के 18 लाख वोटरों के प्रतिनिधि है। क्षेत्र के जनता के प्रति उनकी अपनी जबाबदेही है। खासकर कोरोना जैसे आपदा में उनका गायब रहना दु:खद है। चुनाव के वक्त जमुई को अपनी मां और माटी बताकर वोट लेने वाले सांसद अगर विपदा काल में लापता है तो यह लोकतंत्र के लिए दुर्भाग्यपूर्ण और जमुई की जनता के लिए छलावा है। 

लोजपा सांसद के लापता होने को लेकर लगाए गए पोस्टर पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए लोजपा जिलाध्यक्ष जीवन सिंह ने कहा कि कुछ छूटभइये नेता अपनी टीआरपी बढ़ाने को लेकर इस ढंग की ओछी राजनीति करते हैं। उन्होंने कहा कि पिछले साल कोरोना काल में सांसद दिन-रात क्षेत्र में घूमकर सेवा करते रहे। इस बार वह खुद बीमार हो गए हैं। इसके बावजूद उन्होंने प्रधानमंत्री से निवेदन कर जमुई में ऑक्सीजन प्लांट लगाने का प्रयास किया। इस वक्त बिहार सरकार ने लॉकडाउन में निर्देश दे रखा है कि कोई प्रतिनिधि क्षेत्र में न घूमें तो फिर सांसद कैसे लापता हो गए।

जमुई से राकेश कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News