पति की गैर मौजूदगी में प्रेमी संग रंगरैलियां मना रही थी विवाहिता, ससुरालवालों ने रंगेहाथ पकड़ा

पति की गैर मौजूदगी में प्रेमी संग रंगरैलियां मना रही थी विवाहिता, ससुरालवालों ने रंगेहाथ पकड़ा

गया। पति की गैर मौजूदगी में वह अपने प्रेमी संग मिलती रहती थी। भाभी की इस हरकत को लेकर जब अपने बड़े भाई को जानकारी दी, तो उन्होंने विश्वास नहीं किया। फिर कुछ ऐसा हुआ कि विवाहिता की पूरी कारस्तानी ससुराल के सदस्यों के सामने आ गई और मामले में पुलिस को दखल देना पड़ गया। 

मामला जिले  के मोहनपुर थाना क्षेत्र के मझीआवा गांव की है। जहां गुरुवार को एक शादीशुदा महिला को उसके प्रेमी के साथ परिवार के लोगों ने पकड़ लिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मशक्‍कत के बाद महिला और उसके साथ पकड़े गए धर्मेंद्र यादव को हिरासत में ले लिया। थानाध्यक्ष सुनील कुमार ने बताया कि गुरुवार की सुबह चौकीदार से सूचना मिली कि मझीआवा गांव के संजय मांझी के घर में एक व्‍यक्ति को बंधक बनाकर रखा गया है। इसके बाद जब पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तो वहां पर धर्मेंद्र यादव नामक व्‍यक्ति को बंधक बनाकर रखा गया था। वह पेशे से बस चालक था। करीब तीन घंटे की मशक्‍कत के बाद बस चालक एवं महिला को थाने लाया गया।

मामले में महिला के देवर संजय मांझी का आरोप था कि उसके भाई बाहर रहते हैं। इस बीच उसकी भाभी और धर्मेंद्र यादव के बीच तीन वर्षों से प्रेम संबंध चल रहा था। भाई से इसकी शिकायत की तो उसे भरोसा नहीं हुआ। उसने कहा कि सबूत दिखाए। इसके बाद बुधवार रात दोनों को पकड़ लिया गया। 

ससुरालवालों ने महिला के खिलाफ नहीं की शिकायत

थानाध्यक्ष सुनील कुमार ने बताया कि गुरुवार को देर शाम तक महिला के पति के  द्वारा कोई भी लिखित आवेदन नहीं दिया। जिसके कारण पूछताछ के बाद महिला को छोड़ दिया गया है। महिला अपने मायके चली गई है। उन्होंने कहा कि चालक धर्मेंद्र कुमार के खिलाफ संजय मांझी ने लिखित आवेदन दिया है। इसमें कहा है कि उसने मारपीट का प्रयास किया और कुछ लोगों को बुलाकर धमकी दी। धर्मेंद्र पर यह प्राथमिकी दर्ज की जा रही है।



Find Us on Facebook

Trending News