राजधानी में अबतक का सबसे बड़ा कोरोना अटैक, CRPF कैंप के 100 जवान पॉजिटिव

राजधानी में अबतक का सबसे बड़ा कोरोना अटैक, CRPF कैंप के 100 जवान पॉजिटिव

Patna: पटना जिले में बुधवार को कोरोना के 485 नए मरीज मिले हैं. जिले में अब 10804 संक्रमित हो गए हैं जिनमें 3791 एक्टिव केस हैं और 6957 मरीज ठीक हो चुके हैं. आईजीआईएमएस के दो डॉक्टर और तीन स्टाफ संक्रमित मिले. इधर, राजीवनगर थाने के पास स्थित सीआरपीएफ भवन में रहने वाले करीब 100 जवान व अधिकारी संक्रमित हो गए हैं. इनका इलाज पटना सिटी के कंगनघाट के साथ ही मुजफ्फरपुर में चल रहा है. पटना सिविल कोर्ट के एक जज कोरोना संक्रमित हो गए. उन्हें एम्स में भर्ती किया गया है. 

इस बीच, पटना जिले के कंटेनमेंट जोन में रहने वाले बुजुर्ग, बच्चों और गर्भवती महिलाओं का अभियान चलाकर कोरोना जांच होगी. अब रोज 3700 लोगों की जांच कराने का निर्देश दिया है. प्रभारी डीएम रिची पांडेय ने कहा कि बीमार, लाचार, वृद्ध, गर्भवती महिलाओं के लिए घर पर जांच की व्यवस्था की गई है. संक्रमित मरीजों को एंबुलेंस की सुविधा देने का निर्देश दिया गया है. बुधवार को पटना में 3661 सैंपल लिए गए. संक्रमण की चुनौतियों से निपटने के लिए 8 सेल गठित किए गए हैं. होम आइसोलेशन में रहने वाले टोल फ्री नंबर 18003456019 पर बात कर सलाह ले सकते हैं. 


फतुहा में कोरोना संक्रमितों की संख्या 100 के पार हो चुकी है. बुधवार को पीएचसी में 11 लोग पॉजिटिव पाए गए. बिक्रम में 7 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है.  रेफरल अस्पताल बिहटा में 9 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. मनेर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में जांच में 4 पॉजिटिव पाए गए हैं. मसौढ़ी पीएचसी व एसडीएच में 8 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. इसमें पीएचसी का एक गार्ड एक महिला कर्मी की मां, नगर परिषद का एक सफाईकर्मी शामिल हैं. अनुमंडलीय अस्पताल में जांच में 4 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है.

धनरुआ में 6 की रिपोर्ट पॉजिटिव निकली. बाढ़ अनुमंडल अस्पताल में एक व्यक्ति पॉजिटिव पाया गया. अथमलगोला में दो और पंडारक में एक पॉजिटिव पाया गया. नौबतपुर पीएचसी में 2 लोग पॉजिटिव पाए गए. दोनों खजुरी गांव के निवासी हैं. खजुरी गांव में तीन दिनों के भीतर आठ पॉजिटिव पाए गए हैं. पुनपुन पीएचसी में 15 पॉजिटिव पाए गए हैं. सगुना में 100 बेड का कोविड अस्पताल जल्द बनेगा. यह बैंक्वेट हॉल में बनाया जाएगा.  इसके लिए जगह चिह्नित कर ली गई है. 100 बेड के इस अस्पताल में ऑक्सीजन सप्लाई की सुविधा होगी. यहां फिलहाल वेंटिलेटर नहीं होगा. 24 घंटे डॉक्टर और पारा मेडिकल स्टाफ मौजूद रहेंगे. सिविल सर्जन डॉ. आरके चौधरी ने बताया कि दो-तीन दिन के अंदर सगुना स्थित कोविड अस्पताल कार्यरत हो जाने की उम्मीद हैं.


Find Us on Facebook

Trending News