ललन सिंह के गढ़ में पहुंचे आरसीपी सिंह, कार्यकर्ताओं ने जमकर किया स्वागत

ललन सिंह के गढ़ में पहुंचे आरसीपी सिंह, कार्यकर्ताओं ने जमकर किया स्वागत

पटना. पूर्व केंद्रीय मंत्री और जदयू नेता एक बार फिर से जदयू में जमीन तलाशनी शुरू कर दी हैं। केंद्रीय मंत्री का पद जाने और जदयू में अलग-थलग होने के बाद अपनी सक्रियता बढ़ा दी है। इस कड़ी में उन्होंने मंगलवार को जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह के गढ़ घोसवारी पहुंचे। यहां उन्होंने अरुण सहनी की मां के श्रद्धांजलि कार्यक्रम में शामिल हुए। इस दौरान यहां उनका स्वागत किया गया।

इससे कुछ दिनों पहले आरसीपी सिंह जहानाबाद में जेडीयू के पूर्व जिलाध्यक्ष चंदेश्वर विंद की मौत पर मातमपुर्सी करने के लिए उनके गांव गये हुए थे। यहां उन्हें जदयू कार्यकर्ताओं ने जमकर स्वागत किया था। साथ कार्यकर्ताओं ने आरसीपी सिंह के समर्थन में जमकर नारे लगाये थे। जदयू कार्यकर्ताओं ने नारे लगाते हुए कहा, 'बिहार का सीएम कैसा हो.... आरसीपी सिंह जैसा हो।'


ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि आरसीपी सिंह एक बार फिर जदयू में उभरना चाहते हैं। इसके लिए वे लगातार जदयू कार्यकर्ताओं के छोटे-बड़े कार्यक्रम में शामिल हो रहे हैं, लेकिन जानकारों का कहना है कि उनके लिए जदयू में उभरना इतना आसान नहीं होगा। क्योंकि जदयू के तमाम बड़े नेता उनके विरोध में हैं। 

हाल ही में जदयू ने आरसीपी सिंह के समर्थन करने वाले कई जदयू नेताओं को पार्टी से निकाल दिया था। इसमें जदयू के राष्ट्रीय प्रवक्ता अजय आलोक भी थे। बताया जा रहा है कि जब से ललन सिंह जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने हैं और आरसीपी सिंह केंद्रीय मंत्री बने थे, तब से भी दोनों के बीच महत्वाकंक्षा की लड़ाई शुरू हो गयी थी। आखिरकार इसका खामियाजा आरसीपी सिंह को ही भुगतना पड़ा था। उनकी राज्यसभा सीट के साथ केंद्रीय मंत्री का पद भी चला गया था।  

Find Us on Facebook

Trending News