दरभंगा, बेतिया और सीतामढ़ी में भी सड़क पर उतरे राजद कार्यकर्ता, महंगाई का किया जमकर विरोध

दरभंगा, बेतिया और सीतामढ़ी में भी सड़क पर उतरे राजद कार्यकर्ता, महंगाई का किया जमकर विरोध

DARBHANGA : बिहार में महागठबंधन के द्वारा प्रतिरोध मार्च निकाला गया। महागठबंधन के घटक दलों आरजेडी, कांग्रेस, सीपीआई-एमएल, सीपीआई और सीपीएम महंगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार, केंद्रीय एजेंसी की कार्रवाई सहित विभिन्न मुद्दों को लेकर शहर के विभिन्न चौक चौराहा होते हुए नेहरू स्टेडियम परिसर स्थिति कार्यक्रम स्थल पहुंचा। प्रतिरोध मार्च के दौरान कार्यकर्ता केंद्र व राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए आम लोगों से भी प्रतिरोध में शामिल होने की अपील की।

प्रदर्शन कर रहे राजद विधायक ललित यादव ने कहा की केंद्र की सरकार महंगाई, बाढ़, सूखा, बेरोजगारी सहित अन्य मुद्दों पर पूरी तरह से विफल हो गई है। जिसको लेकर महागठबंधन के सभी दल लगातार सरकार के विरोध में आंदोलन करते रहेंगे। लेकिन केंद्र व राज्य की बहरी सरकार इस पर ध्यान नहीं देकर अपनी मनमानी कर रही है। जिसके खिलाफ आज हम लोगों ने प्रतिवाद मार्च निकालकर सरकार को चेतावनी दिया हैं कि अगर हम लोगों की मांगों पर शीघ्र विचार नहीं हुआ तो उग्र आंदोलन होगा। जिसका जिम्मेदार केंद्र और राज्य की सरकार होगी।

वहीँ बेतिया में हरसिद्धि से राजद के पूर्व विधायक राजेंद्र राम, पश्चिमी चंपारण जिला निर्वाचन प्रभारी राजद के जिला अध्यक्ष इफ्तिखार अहमद उर्फ मुन्ना त्यागी अपने सैंकड़ों समर्मथको के साथ महंगाई और बढ़ती बेरोजगारी को लेकर आज जिला मुख्यालय में प्रदर्शन करते हुए जिला मुख्यालय के गेट पर धरना दिया। धरना को संबोधित करते हुए पूर्व विधायक राजेंद्र राम ने कहा कि भारत की केंद्र सरकार और राज्य सरकार बेतहाशा बेरोजगारी और महंगाई को बढ़ावा दे रही है। आज 450 रूपये का गैस सिलेंडर 12 सौ रुपए में बिक रहा है। किसान त्राहिमाम कर रहे हैं। 266 रूपये का यूरिया का बोरा 7 सों में बिक रहा है। किसान विरोधी सरकार अगर अपनी रवैया नहीं बदलती है तो इससे भी बड़ा जन आंदोलन किया जाएगा। इसकी सारी जिम्मेदारी सरकार की होगी।  वही राजद के जिला अध्यक्ष इफ्तिखार अहमद उर्फ मुन्ना त्यागी ने कहा कि केंद्र सरकार और बिहार सरकार डबल इंजन की सरकार में महंगाई बेरोजगारी व भ्रष्टाचार चरम सीमा पर है। किसान बेहाल हैं, युवा बेरोजगार हैं, मजदूरों का पलायन हो रहा है, नौकरशाही हावी है और महंगाई लगातार बढ़ती जा रही है। महंगाई की मार से तमाम जनता त्राहिमाम कर रही है। अगर सरकार ने अभी भी सुधार नहीं की तो जन आंदोलन किया जाएगा। राजद कांग्रेस और अन्य कई दलों के लोगों ने विरोध मार्च निकालकर सरकार का विरोध किया। विरोध मार्च लाल बाजार शहर से होते हुए जनता सिनेमा चौक से चलकर जिला कलेक्ट्रेट के गेट पर चढ़ाकर समाप्त की गई। 

उधर सीतामढ़ी में महंगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार के खिलाफ विपक्षी पार्टियों का सामूहिक आक्रोश मार्च पूर्व सांसद अर्जुन राय के नेतृत्व में निकाला गया। आक्रोश मार्च में जिले के सभी विरोधी पार्टियों के नेता शामिल हुए। आक्रोश मार्च शहर के गांधी मैदान से महंथ साह चौक, जानकी स्थान होते हुए कारगिल चौक पर पहुँचा। जहां आक्रोश मार्च व्यापक जनसभा में तब्दील हो गया।

वहीँ देश में बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी और केंद्रीय एजेंसी की कार्रवाई जैसे मुद्दों को लेकर महागठबंधन के कार्यकर्ता सड़कों पर प्रतिरोध मार्च निकाला। इस मौके पर कार्यकर्ताओं ने बिहार सरकार एवं केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी किया। गया की सड़कों पर हर जगह तेजस्वी यादव के पोस्टर लगे नजर आये। इस मार्च में सुरेंद्र यादव, बेलागंज विधायक, रंजीत यादव, अतरी विधायक, मंजू अग्रवाल, शेरघाटी विधायक और विनय कुमार यादव गुरुआ विधायक शामिल हुए।

दरभंगा से वरुण, बेतिया से आशीष, गया से मनोज और सीतामढ़ी से अविनाश की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News