मांझी को संग लेकर यूपी में अपनी चुनावी नैया पार कराने की तैयारी में लगे सहनी

मांझी को संग लेकर यूपी में अपनी चुनावी नैया पार कराने की तैयारी में लगे सहनी

पटना. वीआईपी प्रमुख मुकेश सहनी ने शुक्रवार को पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी से मुलाकात की. उनकी इस मुलाकात को आगामी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में सहनी की तैयारियों से जोड़कर देखा जा रहा है. हालाँकि सहनी साफ कर दिया है कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी अपने बलबूते ही चुनाव लड़ेगी. वीआईपी ने उत्तर प्रदेश में भाजपा या किसी अन्य दल के साथ गठबंधन करने की कोई योजना नहीं बनाई है. 

यूपी के चुनाव में मांझी की पार्टी को साथ लेकर उतरने के सवाल पर उन्होंने कहा, हम लोग बिहार में एक साथ मिलकर चुनाव लड़ चुके है. अब अगर यूपी में भी मांझी की पार्टी हमारे साथ आती है तो यह दोनों दलों के लिए बढिया रहेगा. 

उन्होंने मांझी से हुई मुलाकात को शिष्टाचार मुलाकात बताया है. ब्राह्मणों के खिलाफ लगातार अपमानजनक शब्दों का प्रयोग कर रहे मांझी से मिलने पहुंचे सहनी ने कहा कि यह एक शिष्टाचार मुलाकात थी. मांझी को अपना अभिभावक बताते हुए उन्होंने कहा कि हम लोग राजनीति में एक दूसरे से मिलते रहते हैं. 

मांझी के ब्राह्मणों के लिए अपमानजनक शब्दों के प्रयोग पर उन्होंने कहा कि मांझी इसके लिए पहले ही सफाई दे चुके हैं. इस मुद्दे को ज्यादा तूल देने की जरूरत नहीं है. हालाँकि उन्होंने कहा कि मांझी या किसी को भी ऐसा कुछ नहीं बोलना चाहिए जिससे दूसरों की भावनाएं आहत हों. मांझी के भगवान को नहीं मानने के सवाल पर सहनी ने कहा कि हर व्यक्ति की अपनी अपनी धारणा और मान्यता होती है. 




Find Us on Facebook

Trending News