सफाई कर्मचारियों की हड़ताल जारी, शहर में लगा कचरा का ढेर, संक्रमण फैलने की आंशका

सफाई कर्मचारियों की हड़ताल जारी, शहर में लगा कचरा का ढेर, संक्रमण फैलने की आंशका

पटना. पूरे प्रदेश में अपनी मांगों को लेकर सफाई कर्मियों हड़ताल पर है. इस बीच सपाई कर्मचारी संघ और सरकार के बीच वार्ता विफल हो गयी है. सफाई कर्मचार अपनी मांगों पर अड़े हैं. इनका कहना है कि जबत सरकार इसनी बात नहीं मान लेती, तब हड़ताल जारी रहेगी. वहीं सपाई कर्मचारी संघ ने यहां तक कह दिया कि चाहे जेल भेज दे सरकार, लेकिन जब तक मांग नहीं पूरी होगी तक हड़ताल जारी रहेगी.

वहीं सफाई कर्चमारियों की हड़ताल से पटना सहित पूरे प्रदेश के शहर का हाल बुरा हाल है. कई जगह कचरे का अंबार लगा हुआ है. वहीं कचरे की वजह से अब संक्रमण का भी खतरा बढ़ रहा है. वहीं सरकार पर दबाव बनाने के लिए सफाई कर्मियों ने शहरों में जगह-जगह मरे हुए जानवर फेंक दिए हैं. सड़े हुए जानवरों से लोगों की हालत खराब हो गई है. राजधानी पटना के अटल पथ, सगुना मोड, बेली रोड, पाटलिपुत्रा और पुलिस लाइन के पास फेंके गए सड़े जानवरों से बीमारी का खतरा बढ़ गया है.

नगर वासियों को इससे मुक्ति दिलाने का प्रयास भी पूरी तरह से फेल हो रहा है. शनिवार को प्रधान सचिव की वार्ता में भी हड़ताल को नहीं खत्म कराया जा सका है. बिहार लोकल बॉडीज कर्मचारी संयुक्त संघर्ष मोर्चा ने हड़ताल जारी रखने की बात कही है. सफाई कर्मी पिछले पांच दिनों से हड़ताल पर हैं. बता दें कि नगर निकाय के कर्मियों की 13 सूत्री मांगों को लेकर हड़ताल कर रहे हैं.


Find Us on Facebook

Trending News