शिवहर में भी सामने आई कोरोना जांच में गड़बड़ी, फार्मासिस्ट बर्खास्त, प्रभारी चिकित्सक को कारण बताओ नोटिस

शिवहर में भी सामने आई कोरोना जांच में गड़बड़ी, फार्मासिस्ट बर्खास्त, प्रभारी चिकित्सक को कारण बताओ नोटिस

SHEOHAR : एक तरफ राज्य सरकार जहाँ कोरोना जांच में गड़बड़ी करनेवालों पर कार्रवाई की बात करती है. वहीँ स्वास्थ्य विभाग की ओर से कल कहा गया की हमारे लिए मोबाइल नम्बर और उम्र महत्वपूर्ण नहीं है. हमारे लिए व्यक्ति जरुरी है. विभाग ने माना है की एकाध जिले को छोड़कर कहीं गड़बड़ी नहीं पाई गयी है. इसके बावजूद शिवहर जिले में कोरोना जाँच को लेकर फर्जीवाड़ा सामने आया हैं. 

फर्जीवाड़ा पुरनहिया पीएचसी मे सामने आया हैं. जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ है. पीएचसी के द्वारा करीब 40 व्यक्तियों का फर्जी जाँच किया गया हैं. जिसमें किसी भी व्यक्ति का ट्रेस नहीं मिल रहा हैं. कुछ ने जाँच नहीं होने की बात बताई हैं. जिसको लेकर विभाग ने कर्मियों के खिलाफ करवाई शुरू कर दी हैं. फर्जीवाड़े को लेकर प्रभारी डीएम विशाल राज ने बताया हैं कि कोरोना जाँच में पुरनहिया पीएचसी के द्वारा फर्जीवाड़ा किया गया हैं. 

उन्होंने बताया कि प्रभारी चिकित्सक और स्वास्थ्य प्रबंधक से शो कॉज किया गया और प्रभारी चिकित्सक को हटा दिया गया हैं. साथ ही फार्मासिस्ट को बर्खास्त किया गया हैं. प्रभारी डीएम विशाल राज ने कहा कि मामले की जांच जारी है, जो भी दोषी होंगे. उनके ऊपर सख्त कार्रवाई की जाएगी. वही सिविल सर्जन डॉ0 राजदेव प्रसाद सिंह ने बताया कि फार्मासिस्ट को बर्खास्त करते हुए दो कर्मियों का संविदा रद्द किया गया हैं.

शिवहर से मनोज कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News