शरीर में तेजी से फैलती हैं कैंसर की कोशिकाएं, शुरुआती जांच में पता चलने पर इलाज संभव

शरीर में तेजी से फैलती हैं कैंसर की कोशिकाएं, शुरुआती जांच में पता चलने पर इलाज संभव

पटना। कैंसर एक ऐसी बीमारी है, जिसकी कोशिकाएं शरीर में तेजी से बढ़ती हैं। जिसके कारण आसपास मौजूद टीश्यूज, अन्य कोशिकाएं और ऑर्गन डैमेज होने लगते हैं। यह कहना है कि रुबन मेमोरियल हॉस्पीटल के निदेशक डॉ. सत्यजीत कुमार सिंह का। उक्त बातें कैंसर को लेकर आयोजित एक संगोष्ठी समारोह के दौरान कहीं। 

रुबन कैंसर सेंटर के तत्वाधान में आयोजित संगोष्ठी में डॉ. सत्यजीत ने कहा कि कैंसर के कई प्रकार होते हैं, जिनमें फेफड़ों के कैंसर, ऐसोफागस, पेट, मुंह, लैरिंक्स, लिम्फोमा, सर्वाइकल और ब्रेस्ट कैंसर है। वहीं संगोष्ठी को संबोधित करते हुए रुबन कैंसर सेंटर की डॉ. निहारिका ने कहा कैंसर की जानकारी यदि प्रारंभिक अवस्था में होती है तो उसका पूर्ण रूप से इलाज संभव है।

2020 में मिले 19.3 मिलियन नए मामले

कार्यक्रम में कैंसर की विश्व में तेजी से हो रहे प्रसार पर चिंता जाहिर की गई। डॉ. रिदु कुमार ने बताया कि कैंसर एक गंभीर बीमारी है और दुनिया में दिन प्रतिदिन इसके मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। उन्होंने बताया कि 2020 में विश्व में 19.3 मिलियन नए मामले मिले और 10 मिलियन से ज्यादा लोग कैंसर से डेथ हुए थे, जो बीमारी की भयावहता को दर्शाता है।

वहीं डॉ. अभिमन्यु ने कहा कि मुंह और गले का कैंसर से बचने के लिए तम्बाकू और अल्कोहल का सेवन बंद करना होगा। यहां डॉक्टरों ने कहा कि कैंसर को हराया जा सकता है, अगर सही समय पर इलाज और शरीर की उचित देखभाल की जाए। संगोष्ठी के दौरान वरीय चिकत्सक डॉ, केएन सिन्हा, डॉ. अनिल कुमार सिंह, डॉ. रमकांत कुमार, डॉ. राजेश रंजन, डॉ. करमप्रित सिंह व अन्य चिकित्सक उपस्थित थे।

Find Us on Facebook

Trending News