ऐसे ही सब समझ जाते ! पुलिसवाले ने छात्रों को कहा - हंगामा करोगे तो FIR होगा, फिर कहीं भी काम नहीं कर पाओगे, नतीजा - सब शांत हो गए

ऐसे ही सब समझ जाते ! पुलिसवाले ने छात्रों को कहा - हंगामा करोगे तो FIR होगा, फिर कहीं भी काम नहीं कर पाओगे, नतीजा - सब शांत हो गए

SHEOHAR : एक तरफ कुछ नेताओं के बहकावे में बिहार के कई जिलों में छात्रों द्वारा सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाया जा रहा है। उन पर किसी के समझाने का भी कोई असर नहीं हो रहा है। वहीं दूसरी तरफ कुछ हंगामा करनेवालों को इतनी अच्छी तरह से हंगामे के परिणाम के बारे में समझाया गया कि उन्होंने तोड़फोड़ वाले प्रदर्शन की जगह अपना विरोध शांतिपूर्ण तरीके से किया। अभ्यर्थियों ने भी माना कि इस तरह के हिंसात्मक विरोध से सेना में जाने का सपना कभी पूरा नहीं होगा। 

शिवहर जिले से ऐसी ही कुछ तस्वीरें सामने आई है। यहां  आज बिहार बंद के दौरान सुबह सेना की तैयारी कर रहे कुछ अभ्यर्थी अग्निपथ योजना के विरोध में नवाब सिंह हाई स्कूल परिसर में प्रदर्शन के लिए जुटे थे। इस दौरान उनकी योजना केंद्र सरकार का पुतला दहन करने की थी। लेकिन, तभी वहां पुलिस टीम पहुंच गई। जिसके बाद पुलिसकर्मी रघुनाथ प्रसाद ने उन्हें इस हंगामे का परिणाम इतनी बेहतर तरीके से समझाया कि विरोध कर रहे अभ्यर्थियों को थोड़ी ही देर में अपनी गलती का एहसास हो गया और उन्होंने अपना आंदोलन शांतिपूर्ण तरीके से खत्म  किया और डीएम को योजना के विरोध में ज्ञापन सौंपा।


कहा - हंगामा करोगे तो प्राथमिकी होगी, फिर सब खत्म

हंगामा करनेवाले अभ्यर्थियों को पुलिसकर्मी ने कहा कि अगर हंगामा करोगे तो लक्ष्य को पाना संभव नहीं है। कोई भी काम शांतिपूर्ण और दिमाग से सोच समझकर  तरीके से करो। अगर उपद्रव करोगे तो मैं प्राथमिकी दर्ज करेंगे, कार्रवाई भी करेंगे। फिर कहीं भी काम नहीं मिल पाएगा।

दौड़ की प्रैक्टिस करते तोड़ लिया था पैर

पुलिसकर्मी के समझाने का असर यह हुआ सारे अभ्यर्थी शांत हो गए। एक अभ्यर्थी ने बताया कि सेना में जाने के लिए अनुशासन चाहिए, अगर अनुशासन में नहीं रहेंगे तो सेना में जाने की बात भूल जाइए। अभ्यर्थी ने बताया कि कई साल से इसी मैदान में सेना की तैयारी कर रहे थे। दौड़ते दौड़ते अपना पैर भी तोड़ लिया। लेकिन बात जब काम देने की आई तो सरकार ने मुंह फेर लिया। बस यही कहना था

REPORTED BY MANOJ

Find Us on Facebook

Trending News