सासाराम में पैतृक गाँव पहुंचा दारोगा बीरेंद्र पासवान का पार्थिव शरीर, अंतिम दर्शन के लिए लोगों की उमड़ी भीड़

सासाराम में पैतृक गाँव पहुंचा दारोगा बीरेंद्र पासवान का पार्थिव शरीर, अंतिम दर्शन के लिए लोगों की उमड़ी भीड़

SASARAM : औरंगाबाद के दाउदनगर में ऑन ड्यूटी अपराधियों के हमले में मारे गए दारोगा बीरेंद्र पासवान का शव सोमवार को उनके पैतृक गांव शिवसागर के सोनडिहरा लाया गया। शव के पहुंचते ही उनके परिवार में कोहराम मच गया। वृद्ध पिता का रो-रोकर बुरा हाल है। जबकि अन्य तीन भाई का भरा-पूरा परिवार भी गमगीन है। शव के पहुंचते ही क्षेत्र में आग की तरह सूचना फैली और लोग मृत दारोगा के घर की तरफ उमड़ पड़े। शव के साथ पुलिस बल ताबूत में फूल माला से लदे शव को उनके दरवाजे के सामने चौकी पर रखा गया, जिसे ग्रामीण अंतिम दर्शन कर रहे हैं। बिलखते मृत दारोगा की पत्नी और बेटी को संभालना मुश्किल हो रहा हैं। उनके चीत्कार से आसपास का माहौल पूरी तरह गमगीन है। 

बताते चलें की सोनडिहरा गांव के रामबचन पासवान के चार बेटों में दारोगा बीरेंद्र पासवान एकमात्र नौकरी करने वाले थे। मृतक के तीन भाई सुरेंद्र पासवान, विरेंद्र पासवान, छोटन पासवान और चंद्रभान पासवान गांव पर ही खेतीबारी करते है। इस तरह वे पूरे भरे-पूरे परिवार के धुरी थे। मृतक के पुत्र वरूण प्रताप 30 साल एवं विनय प्रताप 23 साल के हैं। उनदोनों का भी रो-रोकर हालत खराब है। जबकि बेटी वंदना 26 साल की हैं। जिसकी शादी होने वाली थी। विभिन्न राजनीतिक दलों के नेता कार्यकर्ताओं के अलावा स्थानीय प्रशासनिक अधिकारी भी श्रद्धांजलि देने पहुंचे हैं।


बताते चलें की औरंगाबाद के दाउदनगर थाना क्षेत्र के नान्हू बिगहा में मुंशी की हत्या कर दी गयी थी। इस मामले में दो आरोपियों को पकड़ने गुरुवार की रात शमशेर नगर के पीड़ी पर गयी पुलिस टीम पर ग्रामीणों ने जानलेवा हमला कर दिया था। उसी दौरान एक घर की छत से लोहे की कील युक्त भारी सामग्री एएसआई बीरेंद्र पासवान पर फेंकी गयी थी। जिससे वे गम्भीर रूप से घायल हो गए थे। स्थानीय अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें पटना के पारस अस्प्ताल में इलाज कराया जा रहा था। लेकिन बीरेंद्र पासवान को बचाया नहीं जा सका। हालाँकि जिले के एसपी ने बताया कि पीड़ी पर हुए हमले मामले में 16 नामजदों को गिरफ्तार कर लिया गया है और शेष अज्ञात अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। एसपी ने कहा की किसी भी कीमत पर ऐसे जघन्य अपराध को अंजाम देनेवाले अपराधियों को बख्शा नहीं जाएगा।

सासाराम से राजू की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News