तूल पकड़ने लगा एजीएम की पिटाई का मामला, जेवीएम ने कहा करेंगे विधायक की पिटाई

तूल पकड़ने लगा एजीएम की पिटाई का मामला, जेवीएम ने कहा करेंगे विधायक की पिटाई

BOKARO : बोकारो में बीएसएल के नगर सेवा भवन के एजीएम के पिटाई का मामला अब तूल पकड़ने लगा है. इस घटना के विरोध में अब जेवीएम ने मोर्चा खोल दिया. जेवीएम नेता डॉ प्रकाश ने विवादित बयान देकर कहा कि 48 घण्टे के अंदर भाजपा विधायक की गिरफ्तारी नहीं हुई तो जेवीएम कानून व्यवस्था तोड़ने पर मजबूर हो जायेगा. 

डॉ प्रकाश ने कहा कि विधायक की पिटाई होगी. डॉ प्रकाश के इस बयान से राजनीतिक गलियारों में हडकंप मच गया है. उन्होंने कहा कि कमीशन के लालच में उन्होंने अपना आपा खो दिया और अधिकारी को पीट दिया. उन्होंने कहा कि तालाब के सौंदर्यीकरण के नाम पर कमीशनखोरी चरम पर है. बोकारो में एसपी,डीसी और न्यायपालिका की जरूरत नहीं है. विधायक ही सक्षम है तो हम क्यों नही कानून व्यवस्था तोड़ दें ? 

बताते चले मंगलवार को भाजपा विधायक बिरंचि नारायण और बोकारो इस्पात संयंत्र के नगर सेवा विभाग के सहायक महाप्रबंधक अजीत कुमार के बीच मारमीट हो गयी. मारपीट के दौरान खुद को बचाने के लिए सहायक महाप्रबंधक जब भागने लगे. तब भी विधायक ने उन्हें नहीं छोड़ा. 

बोकारो इस्पात प्रबंधन का कहना है कि तालाब के जीर्णोद्धार के लिए प्रबंधन से अनापत्ति प्रमाण पत्र प्राप्त नहीं लिया गया है. इसकी वजह से यह निर्माण कार्य पूरी तरह अवैद्य है. इसी कार्य को रोकने के लिए अधिकारी अजित कुमार पहुँचे थे. इसी दौरान विधायक बिरंचि नारायण बाइक से कार्य स्थल पहुँचे और अधिकारी की पिटाई करने लगे. 

इसके बाद अधिकारी अजित कुमार भागने लगे तो उनको दौड़ा दौड़ा कर विधायक और उनके समर्थक पीटने लगे. इसके बाद उनके साथ आये होमगार्ड के जवानों को भी समर्थकों ने दौड़ा दिया. इन मारपीट के बाद चोटिल अधिकारी को बोकारो जेनरल अस्पताल में भर्ती कराया गया.

जबकि विधायक का कहना था कि तालाब का जीर्णोद्धार जन सुविधा के लिए किया जा रहा है. इसी बात को लेकर विवाद बढ़ा था. जिसमें समर्थकों ने उनकी पिटाई की है. हमने उनको बचाने का काम किया है. 

बोकारो से मृत्युंजय की रिपोर्ट


Find Us on Facebook

Trending News