गंगा किनारे रहनेवाले लोगों के लिए अभिशाप बन चुका है नदी का कटाव, तेजी से लोग अपना घर छोड़कर जा रहे हैं लोग

गंगा किनारे रहनेवाले लोगों के लिए अभिशाप बन चुका है नदी का कटाव, तेजी से लोग अपना घर छोड़कर जा रहे हैं लोग

KATIHAR : कटिहार में जारी है कुदरत का कहर, गंगा नदी के कटाव से लगातार विस्थापित हो रहे हैं लोग, अमदाबाद प्रखंड के बबला बन्ना गांव में अब तेज कटाव को लेकर लोग अपने घर छोड़कर पलायन को है मजबूर, प्रशासन पर लोगों का उठा भरोसा सरकार अभी भी आश्वासन दे रहे हैं। बाढ़,कटाव और विस्थापित इस जिले की बड़ी समस्या है और हर साल इसके निजात को लेकर दावा तो बहुत किया जाता है मगर कटाव के कहर के कारण राजा से रंक बनने की यह दर्द भरी कहानी आज भी इस जिले के लिए अभिशाप बना हुआ है।

अपने ही घर पर हथौड़ी चलाने का दर्द क्या हो सकता है यह कटाव के जद वाले कटिहार जिला के अमदाबाद प्रखंड के लोगों से बेहतर शायद ही कोई समझ सकता है, पर करें तो क्या करें जो कुछ भी है उसे गंगा के रौद्र रूप से बचाने के लिए यही एकमात्र विकल्प है, इसलिए बाढ़ के दस्तक के बीच कोहराम मचा रहे कटाव से अपना घर के सामानों को बचाने के लिए यह अंतिम प्रयास चल रहा है। मगर कई लोग ऐसे हैं जिन लोगों का कुछ बचा भी नहीं है और कटाव में पहले ही उनका घर आंगन जल समाधि ले चुका है। 

हालांकि इस बार अब तक बाढ़ उस तरह का रौद्र रूप नहीं बरपाया है मगर कटाव के कहर से अमदाबाद प्रखंड के बबला बन्ना, युसूफ टोला, सूबेदार टोला में कोहराम मचा हुआ है,कटाव के जद वाले इलाके के ग्रामीण कहते है प्रशासन के लोग ने सुधी तो लिया है मगर अब तक सुविधा के नाम पर कुछ भी उपलब्ध नहीं होने से लोग पलायन को मजबूर है।

इधर अपने जिले के इस विकराल समस्या पर उप मुख्यमंत्री तार किशोर प्रसाद कहते हैं कि प्रशासन बाढ़ को लेकर व्यापक तैयारी किया है, जहाँ तक कटाव के कहर का चर्चा है, इसको लेकर भी सरकार गंभीर है जो भी व्यवस्था तत्काल संभव है वह करवाया जाएगा और आगे यह समस्या विकराल ना हो इसके लिए भी विचार किया जा रहा है।


Find Us on Facebook

Trending News