नवजात को झाड़ियों में फेंककर फरार हो गई मां, साथ में आई महिला को पकड़ा तो सच जानकर लोग हो गए हैरान

नवजात को झाड़ियों में फेंककर फरार हो गई मां, साथ में आई महिला को पकड़ा तो सच जानकर लोग हो गए हैरान

AURANGABAD : मानवता को शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई है।  मामला औरंगाबाद ज़िले के अंबा थाना अंतर्गत महावीर गंज गांव की हैं। जहां एक निर्दयी मां ने अपने नवजात शिशु को झाड़ी में फेंक दिया जिसे आसपास के लोगों ने इस कृत्य को देखा तो वे वहां जैसे ही पहुंचे लोगों को अपनी ओर आते देख युवती बाइक पर सवार होकर फरार हो गई। लेकिन इस दौरान फरार युवती के साथ आई एक महिला को लोगों ने पकड़ लिया।इसके बाद इस घटना की सूचना अंबा थाना की पुलिस को दी गई जहां मौके पर पहुंची पुलिस ने उस महिला को हिरासत में ले लिया और थाना लाई गई है। पकड़ी गई महिला नवीनगर प्रखंड के एक गांव की रहने वाली है। 

इधर स्थानीय लोगों ने उस बच्चे को झाड़ी से उठाकर हरिहरगंज के एक निजी अस्पताल में ले गए। जहां उसका इलाज कराया गया। फिलहाल बच्चे की स्थिति ठीक है। महिला ने पूछताछ में बताया कि नवजात शिशु उसके गांव की एक अविवाहित युवती की है। उसने लोक लज्जा के भय से नवजात शिशु को झाड़ी में फेंक दिया। पर एक बड़ा सवाल यह उठता है कि उस नवजात का क्या कसूर जिसे दुनिया देखने से पहले ही उसे मौत के लिए झाड़ियों में फेंक दिया गया मगर किस्मत नवजात की अच्छी थी कि वह  जिंदा बच गया। 

थानाध्यक्ष रमेश प्रसाद ने बताया कि नवजात शिशु को हरिहरगंज के एक अस्पताल में रखा गया है। उसकी मां को बुलाकर नवजात शिशु को उसे सौंपा जाएगा। हालांकि लोग पुलिस द्वारा उक्त शिशु को किसी व्यक्ति को सौंपने की बात बता रहे हैं। इस संबंध में जानकारी लेने पर विशिष्ट दत्तक ग्रहण संस्थान के प्रभारी पदाधिकारी अनिता कुमारी ने बताया कि ऐसे बच्चों को विशिष्ट दत्तक ग्रहण संस्थान में रखा जाता है। लेकिन उन्हें अब तक इस तरह की सूचना नहीं मिली है। अगर पुलिस द्वारा बच्चा किसी को सौंपा गया है तो यह गलत है। यदि उक्त शिशु की मां बच्चे को लेने से इंकार करती है तो उसे विशिष्ट दत्तक ग्रहण संस्थान में रखा जाएगा।

Find Us on Facebook

Trending News