मायके से मना कर ले गए ससुराल वाले फिर दस दिन बाद बेडरूम से मिली बहू की लाश..

मायके से मना कर ले गए ससुराल वाले फिर दस दिन बाद बेडरूम से मिली बहू की लाश..

खगड़िया... जिले में दहेज के लिए  एक और अर्थी उठी। मथुरापुर में ससुराल वालों ने एक बाइक और 5 भरी सोना के लिए अपनी ही बहू की गला घोंटकर हत्या की घटना को अंजाम दिया है। मृतक की पहचान भगत टोला निवासी संजीव कुमार उर्फ फूलचंद महतो की पत्नी कोमल कुमारी के रूप में की गई है। स्थानीय लोगों ने बताया कि ससुराल वाले 5 भरी सोना और एक बाइक की मांग कर रहे थे। इसके लिए अक्सर उसे मारते-पीटते भी थे। इसी से तंग आकर वह कुछ दिनों पहले मायके आ गई थी। 10 दिन पहले ही उसके पति और ससुर उसे ससुराल ले गए थे। 

बीते बुधवार को ससुराल वालों ने इसी बात को लेकर उसके साथ मारपीट की और गला घोंटकर हत्या कर दी। हत्या के बाद भी इसकी भनक किसी को कानोकान नहीं लगने दी, लेकिन हत्या छुपती कहां है? उड़ते-उड़ते खबर पूरे गांव में फैल गई, जिसके बाद एक रिश्तेदार ने फोन से कोमल के मायके वालों को इसकी खबर दे दी। बदहवास होकर मायके वाले ससुराल पहुंचे तो कोमल को अपने बेड पर मरा हुआ पाया। इसके बाद परिवार में मातम छा गया। परिजनों ने पुलिस को इसकी सूचना दी।

ढाई साल पहले हुई थी कोमल की शादी

कोमल की शादी ढाई साल पहले खगड़िया निवासी संजीव कुमार उर्फ फूलचंद से हुई थी। शादी के कुछ दिन बाद से ही ससुराल वाले दहेज के रूप में एक बाइक और 5 भरी सोना के लिए प्रताड़ित करने लगे थे। रोजाना मार-पीट से तंग आकर कोमल ने मायके जाने का फैसला किया। इसके बाद उसके परिजन वहां से मायके ले गए थे। 10 दिन पहले कोमल के पति संजीव कुमार और ससुर देव आनंद महतो विदाई करवा कर ससुराल ले आए थे।

दहेज उत्पीड़न के कारण हत्या का मामला

कोमल के भाई अर्पण कुमार ने पति संजीव कुमार, ससुर देव आनंद महतो, देवर अमरजीत बिट्टू और ननद मनीषा कुमारी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है। नगर थानाध्यक्ष रामस्वार्थ पासवान ने बताया कि दहेज उत्पीड़न के कारण हत्या का मामला दर्ज कराया गया है। मामले की तफ्तीश चल रही है।


Find Us on Facebook

Trending News