नशा उन्मूलन में कार्रवाई करने गई थी टीम, यहां जिसने शिकायत की, उसी पर नशेड़ी युवक ने लगाया बहन से गैंगरेप का आरोप, रोचक है पूरा मामला

नशा उन्मूलन में कार्रवाई करने गई थी टीम, यहां जिसने शिकायत की, उसी पर नशेड़ी युवक ने लगाया बहन से गैंगरेप का आरोप, रोचक है पूरा मामला

BHAGALPUR : भागलपुर जिले के जिला के हबीबपुर थाना छेत्र के भैरोंपुर इलाके में नशा उन्मूलन को लेकर कार्रवाई करने पहुंची टीम तब हैरान रह गई, जब नशेड़ी युवक ने शिकायत करनेवाले के खिलाफ ही बहन से गैंगरेप करने का आरोप लगा दिया। जिसके बाद यहां खूब हंगामा हुआ और यहां तक की पीड़ित युवती भी वहां पहुंच गई और रेप की बात को कबूल किया। वहीं विवाद बढ़ता देख पुलिस को दखल देना पड़ा। हालांकि पीड़िता ने कोई लिखित शिकायत दर्ज नहीं कराया और वापस चली गई।

यह है पूरा मामला

बताया गया कि हबीबपुर थाना के भैरोपुर इलाके में बड़ी संख्या में नशेड़ियों की भरमार है। जिन्हें नशे की लत छुड़ाने के लिए उन्मूलन समिति बनाई गई। इस समिति ने  यहां के एक मेडिकल दुकान के संचालक बंटी कुमार की शिकायत पर दस दिन पहले कुछ युवकों को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया था। लेकिन पुलिस ने एक दिन पहले उन्हें छोड़ दिया। जिसके बाद वह सीधे मेडिकल दुकान संचालक के पास पहुंच गए। जहां उन्होंने दुकान संचालक को धमकी दी। जिसके बाद संचालक ने इसकी जानकारी समिति को दी थी और समिति के लोग दुकान पर पहुंचे थे।

पूरी कहानी ही बदल गई

मेडिकल दुकान पर पहुंचने के बाद समिति के लोग तब हैरान रह गए, जब उन्हें पूरे मामले की जानकारी मिली। यहां नशेड़ी युवक का आरोप था कि दुकान संचालक ने उसकी बहन से न सिर्फ दुष्कर्म किया, बल्कि अपने दोस्तों के पास भी उसे परोस दिया। पूरी रात सभी ने होटल में उससे गैंगरेप किया। इस  आरोपों के लेकर बढ़ते विवाद के बीच सच्चाई की पुष्टि के लिए समिति द्वारा पूछने पर आरोप लगाने वाले लड़के ने फोन कर अपने बहन  को भी  बुलाकर अंशु मेडिकल और लड़की को आमने सामने करा दिया । वहीं पीड़ित लड़की ने बताया की पिछले 15 दिन पूर्व मेडिकल संचालक बंटी कुमार ने एम मार्केट के समीप किसी होटल में ले जाकर उसके साथ रेप की घटना को अंजाम दिया।

वही स्थानीय माहोल  बिगड़ते देख वहा के स्थानीय लोगो द्वारा  स्थानीय प्रशासन को फोन कर इस घटना की सूचना दी। वही स्थानीय  हबीब पुर पुलिस  थाना पहुंच कर सभी लोगो को अपने साथ थाना ले गई। वहीे थाना में दोनो पक्षों से पूछताछ कर सभी लोगो को छोड़ दिया गया। 

वहीं जब थाना प्रभारी कृपा सागर ने उक्त घटनाओं की  बात को लेकर  बताया कि घटित घटना उक्त थाने छेत्र में नहीं पढ़ता  है। साथ ही साथ इस घटना के विषय में  पीड़िता के द्वारा कोई लिखित शिकायत भी नही देने की बात कही गई। उक्त लड़की के माता द्वारा अपने पुत्री को साथ ले गई।

बहन ने भेजवाया था जेल

वही स्थानीय ग्रामीणों ने  बताया कि उक्त अंशु मेडिकल के संचालक बंटी कुमार भी नसीली दवाई को बेचता है। साथ ही साथ लड़की के भाई द्वारा भी नशीली पदार्थ का सेवन से लेकर बेचने का काम करता है। वहीं हैरान करने वाली खुलासा तब सामने आया जब लड़की का भाई ने खुलासा किया की इसके पूर्व ही  इसी लड़की के द्वारा उसको भी संगीन आरोप में जेल भिजवाया गया था।


Find Us on Facebook

Trending News