झुलसाने वाली गर्मी से ट्रेन ड्राइवर हुआ बेहाल, बीच ट्रैक पर ट्रेन खड़ी कर कहा अब नहीं चलाऊंगा

झुलसाने वाली गर्मी से ट्रेन ड्राइवर हुआ बेहाल, बीच ट्रैक पर ट्रेन खड़ी कर कहा अब नहीं चलाऊंगा

DESK. भीषण गर्मी से बेहाल देश के कई राज्यों में इन दिनों सुबह से ही लोगों को झुलसती गर्मी से जूझना पड़ रहा है. खासकर ट्रेन चलाने वाले लोको पायलटों को इस गर्मी में भीषण परेशानी झेलनी पड़ती है. तीखी धुप और लू के थपेड़ों को झेलते एक ट्रेन ड्राइवर ने इसी चक्कर में बीच रेलवे ट्रैक पर ट्रेन खड़ी कर दी और आगे ड्यूटी करने से इनकार कर दिया. लोको पायलट के इस फैसले से कई घंटों पर रेल परिचालन बाधित रहा. 

दरअसल, यह मामला उत्तर प्रदेश का है. यहां बरेली से लखनऊ की ओर मालगाड़ी लेकर जा रहे लोको पायलट ने करीब 10.30 घंटे की ड्यूटी कर ली थी. वह गर्मी से इतना परेशान हुआ कि ट्रेन को ट्रैक पर छोड़ कर ही चला गया. ड्राईवर का कहना था कि उसने अपनी ड्यूटी पूरी कर ली है. अब वह ओवर टाइम कर रहा है. लेकिन इससे वह तंग आ चुका है. उस पर भीषण गर्मी से उसकी हालात खराब है. इसलिए उसने बीच ट्रैक पर ही ट्रेन लगाकर छोड़ दिया. 

ट्रेन बरेली जंक्शन के दो नंबर मेन लाइन पर सुबह 9 बजकर  23 मिनट पर पहुंची थी. रेलवे अधिकारियों ने बताया कि मालगाड़ी ट्रेन का ड्राइवर गर्मी में ओवर टाइम ड्यूटी से परेशान था और इसी लिए बीच रास्ते में ही मेन लाइन पर ट्रेन छोड़कर चला गया. ड्राइवर का कहना था कि वह साढ़े दस घंटे की ड्यूटी कर चुका है. अब इससे ज्यादा नहीं कर सकता. उसने ट्रेन को आगे ले जाने से मना कर दिया. रेलवे अधिकारियों के मुताबिक इस ट्रेन को बरेली से लखनऊ की तरफ ले जाना था. मगर ट्रेन के बरेली जंक्शन पहुंचते ही ड्राइवर ने इंजन में लॉक लगा दिया और मेन लाइन पर ट्रेन छोड़कर चला गया.

हालांकि रेल अधिकारियों ने लोको पायलट को मनाने की कोशिश की. उसे ट्रेन को अगले स्टेशन तक ले जाने का आग्रह किया ताकि रेल परिचालन बाधित न हो लेकिन लोको पायलट कुछ भी मानाने को तैयार नहीं हुआ. उसने सीधे शब्दों में और ज्यादा ड्यूटी करने से मना कर दिया. बाद में स्टेशन मास्टर ने वरिष्ठ अधिकारियों से बात कर दूसरे ड्राइवर की व्यवस्था की. इस पूरी प्रक्रिया में कई घंट लग गये. इससे काफी समय तक रेल परिचलन बाधित रहा. 


Find Us on Facebook

Trending News