नीट 2022 की तैयारी के अंतिम रूप देने के लिए गोल इन्स्टीट्यूट ने बताई रणनीति, दिया कामयाबी पाने का बड़ा मंत्र

नीट 2022 की तैयारी के अंतिम रूप देने के लिए गोल इन्स्टीट्यूट ने बताई रणनीति, दिया कामयाबी पाने का बड़ा मंत्र

PATNA : नीट 2022 के लिए छात्रें के पास मात्र 40 दिन शेष रह गए है। ऐसे में मेडीकल की तैयारी कर रहे छात्रें के लिए यह जानना आवश्यक हो जाता है कि अंतिम समय में अपने तैयारी को अंतिम रूप कैसे दें। छात्रों के इन्हीं उलझनों को सुलझाने के लिए गोल इन्स्टीट्यूट द्वारा कालिदास रंगालय पटना में सेमीनार का आयोजन किया गया। जिसमें गोल के एक्सपर्टस के साथ-साथ गोल संस्थान के पूर्ववर्ती सफल छात्रों ने नीट 2022 की तैयारी कर रहे छात्रों को सफलता के महत्वपूर्ण टिप्स दिए। सुबह और शाम के दो शेषण में आयोजित इस समारोह में हजारों छात्र एवं अभिभावकों ने हिस्सा लिया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए गोल इन्स्टीट्यूट के मैनेजिंग डायरेक्टर विपिन सिंह ने  सुझाव देते हुए कहा कि अंतिम समय में छात्रों को संयमित होकर अपने लक्ष्य के लिए लगातार प्रयास करने से सफलता सुनिश्चित होगी। उन्होंने परीक्षा की तैयारी के लिए इन बिंदूओं को अपनाने पर जोर दिया।

  •     समय का प्रबंधन करते हुए प्रतिदिन 10 घंटे या ज्यादा की पढ़ाई करें।
  •     पॉजिटिव सोच एवं आत्म विश्वास के साथ प्रयास करें।
  •     NCERT की पुस्तक को तैयारी के मुख्य केन्द्र में रखें।
  •     प्रत्येक चैप्टर के प्रश्नों से अभ्यास करें
  •     डाउट्स प्रश्नों के लिए शिक्षक एवं डिस्कशन का मदद लें।
  •     सही समय अंतराल पर बार-बार रिविजन करें।
  •     टेस्ट के माध्यम से अपने गलतियों को जानें एवं लगातार उसे सुधारने की कोशिश करें।
  •     सही एवं जानकार व्यक्ति की निगरानी में सही दिशा निर्देश को फॉलों करें।

छात्रों को सफलता का महत्वूपर्ण टिप्स देते हुए गोल इन्स्टीट्यूट के असिस्टेंट डायरेक्टर रंजय सिंह ने कहा कि अंतिम समय में छात्र किसी नए पुस्तक को पढ़ने से बचें एवं अपने निगेटिव स्कोर को कम करने के लिए पर्याप्त रिविजन एवं प्रैक्टिस करें। प्रत्येक दिन छोटे-छोटे लक्ष्य बनाकर उसे एचीव करने से बड़ा लक्ष्य आसानी से पा सकते हैं। योगा प्राणायाम एवं सकारात्मक सोच से अपने तन एवं मन को स्वस्थ रखते हुए पढ़ाई करें। अंतिम समय में पर्याप्त नींद लें एवं प्रत्येक दिन उसे पिछले दिन से बेहतर बनाने का प्रयास करें।

गोल इन्स्टीट्यूट में पढ़ाई कर सफलता पाकर एम्स में पढ़ाई कर रहे चंदन, रितीक, प्रींस एवं प्रवीर ने पिछले वर्ष तैयारी के दौरान के अपने अनुभवों को साझा किया एवं कहा कि गोल संस्थान द्वारा मिल रहे दिशा निर्देश को अगर ईमानदारी पूर्वक फॉलो करें तो सफलता सुनिश्चित है। सेमीनार का संचालन गोल के आनंद वत्स के द्वारा किया गया जिसमें गोल के कई अधिकारी एवं पदाधिकारी उपस्थित थे।


Find Us on Facebook

Trending News