केंद्रीय मंत्री पशुपति पारस बोले- 'PM नरेंद्र मोदी ईश्वर रूपी भगवान से कम नहीं', सभी के हित में कर रहे हैं काम

केंद्रीय मंत्री पशुपति पारस बोले- 'PM नरेंद्र मोदी ईश्वर रूपी भगवान से कम नहीं', सभी के हित में कर रहे हैं काम

पटना. राष्ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व केन्द्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री पशुपति कुमार पारस ने आज मुजफ्फरपुर में आयोजित रोजगार मेला से पटना लौटने के उपरांत प्रदेश पार्टी कार्यालय पटना में प्रेस एवं मीडिया को सम्बोधित करते हुए कहा कि देश में यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के निर्णय और आह्वान पर भारत में आजादी का 75वां अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। इस दौरान पशुपति पारस ने कहा कि नरेंद्र मोदी ईश्वर रूपी भगवान से कम नहीं है।

रालोजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता श्रवण कुमार अग्रवाल ने बताया कि पशुपति पारस ने आज पटना के राष्ट्रीय लोजपा कार्यालय में उपस्थित मीडिया के साथी को संबोधित करते हुए कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव को लेकर नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में एनडीए की सरकार ने हर वर्ष 10 लाख नौकरी बेरोजगारों को देने का निर्णय लिया था। केन्द्र की एनडीए सरकार की उस घोषणा के तहत पशुपति कुमार पारस ने कहा कि आज मैंने मुजफ्फरपुर में आयोजित रोजगार मेला में जाकर 63 लोगों को रोजगार का नियुक्ति पत्र वितरण किया। पशुपति कुमार पारस ने कहा कि आजादी के 75 साल पूरे होने पर नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश में आज 75000 रोजगार का नियुक्ति पत्र दिया गया है। अगले एक साल में भारत सरकार द्वारा मिशन मोड में 10 लाख लोगों को रोजगार देकर भर्ती करने का प्रधानमंत्री का निर्णय ऐतिहासिक और रोजगार के तालाश में भटक रहे युवाओं के लिए हितकारी है। नरेन्द्र मोदी के इस निर्णय से देश के नौजवानों और युवाओं में आशा और उत्साह का संचार होगा।

पशुपति कुमार पारस ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हमेशा देश के 135 करोड़ लोगों के बारें में सोचते हैं और उनकी हमेशा चिंता करते हैं। पारस ने कहा कि ईश्वर को किसी ने नहीं देखा, परन्तु वे समाज में वंचित समुदाय देश के दलितों, गरीबों, अतिपिछड़ों वे सबको संरक्षण देने में अपना सारा समय और सारी ऊर्जा से वे मजबूती से लगे रहते हैं। पारस ने कहा कि हमारा तो मानना है कि वे देश में आज साक्षात ईश्वर रूपी भगवान से कम नहीं है। पशुपति कुमार पारस ने बिहार में वर्तमान महागठबंधन एवं सत्ता पक्ष के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए उन्होनें कहा कि 17 साल से वे राज्य की सत्ता की बागडोर उनके हाथ में है, उनकों ये सार्वजनिक रूप से बताना चाहिए कि उन्होनें अपने शासनकाल में कितने बेरोजगारों को नौकरी दी। आज भी बिहार के युवा और नौजवान रोजगार और नौकरी की तालाश में बिहार से निरंतर पलायान कर रहे हैं।

Find Us on Facebook

Trending News