वाल्मिकी नगर की खूबसूरती पर फिदा हुए सीएम नीतीश, कहा - यहीं पर हमने दिया था 'इको टूरिज्म' का नाम

वाल्मिकी नगर की खूबसूरती पर फिदा हुए सीएम नीतीश, कहा - यहीं पर हमने दिया था 'इको टूरिज्म' का नाम

बगहा। सीएम नीतीश कुमार इन दिनों पटना की राजनीतिक उठापटक से दूर प्रकृति प्रेमी के रूप में नजर आ रहे हैं। बुधवार को वह पटना के राजधानी जलाशय में अप्रवासी पक्षियों को देखने के लिए पहुंचे थे। अब वह बगहा के वाल्मिकी नगर की प्राकृतिक सौंदर्य को देखने के लिए पहुंच गए।  इस दौरान वाल्मिकी नगर की प्राकृतिक खूबसूरती पर नीतीश फिदा नजर आए। उन्होंने कहा कि वह हर साल यहां आते हैं। यहीं पर सबसे पहले मैंने इको टूरिज्म शब्द की शुरुआत की थी। इस दौरान उन्होंने सड़क के घटिया निर्माण को अधिकारियों को फटकार भी लगाई। सीएम ने साफ कहा कि पथ निर्माण में लगे अधिकारियों को डेढ़ साल पहले ही निर्देश दिया गया था, लेकिन स्थिति में ज्यादा सुधार नहीं हुआ है। 

सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि इतनी खूबसूरत जगह है आप जाकर तो देखिए। यहां पहाड़ दिखेगा। जंगल दिखेगा, नदी और झरना के साथ विभिन्न प्रकार के जंगली जानवर दिखेगा। इस दौरान नीतीश ने कहा कि इस बार वह विशेष मकसद को लेकर यहां आए हैं। उन्होंने कहा कि लोग यहां की प्राकृतिक सौंदर्य को देख सकें, इसके लिए जरुरी है यहां आने के लिए सुविधाजनक रोड हो, जिससे लोगों को परेशानी का सामना नहीं करना पड़े। इस दौरान राजनीति से दूर नीतीश सिर्फ प्रकृति पर बात कर रहे थे। वाल्मिकी नगर आने के बाद जोश में नजर आ रहे सीएम ने कहा कि यह सड़क जंगल के बीच से गुजरती है इसको रोक दिया गया है लेकिन यह बनना चाहिए। यह कितना सुंदर जगह है जाकर देखिए।

सड़क निर्माण पर जताई नाराजगी

इस दौरान सीएम नीतीश ने यहां बन रहे सड़क पर अपनी नाराजगी भी जाहिर  की। उन्होंने कहा कि इस महत्वपूर्ण जगह लोग आ सके, इसके लिए बेहतर सड़क जरुरी है। हमने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि हम पहले भी आए थे और रोड बनाने को लेकर निर्देश दिया था, लेकिन इसके बाद भी काम बेहतर नहीं हुआ है। 

इको टूरिज्म शब्द का हुआ था जन्म

वाल्मिकी नगर पहुंचे सीएम ने कहा  इको टूरिज्म का शब्द जो आया है वह कहा से आया है यहीं से।  सबसे पहले इसकी शुरुआत भी हमने यहीं वाल्मीकिनगर से किया है। आज देखिए धीरे धीरे विकास हो रहा है। देखते देखते कितना कुछ बन गया है। इस दौरान विभागीय पदाधिकारी से पूरी वस्तु स्थिति को मैप पर देखकर आवश्यक निर्देश भी देते दिखे मुख्यमंत्री। उन्होंने कहा कि बहुत जल्द जंगल से बाहर की ओर से बाइपास का निर्माण होगा।

Find Us on Facebook

Trending News