नवादा में इलाज के दौरान महिला की हुई मौत, परिजनों ने किया जमकर बवाल, डॉक्टर पर लापरवाही का लगाया आरोप

नवादा में इलाज के दौरान महिला की हुई मौत, परिजनों ने किया जमकर बवाल, डॉक्टर पर लापरवाही का लगाया आरोप

NAWADA : जिले के एक निजी अस्पताल धर्मशिला देवी अस्पताल के डॉक्टर के लापरवाही के कारण महिला की मौत हो गयी। जिसके बाद मृतिका के परिजनों ने जमकर हंगामा किया। मृतिका के पति उमेश सिंह ने बताया कि लापरवाही के कारण मेरी पत्नी की मौत हुई है। सीना में दर्द होने पर उसे अस्पताल में भर्ती कराए और ऑनलाइन इलाज के नाम पर पहले 8 हजार रुपया लिया गया और फिर 22 हजार रुपया की मांग की गई थी। अंत में मेरी पत्नी संजू देवी की मौत हो गई। वहीँ हम लोगों को इसकी जानकारी भी नहीं दी गई। 

उन्होंने कहा की जब जानकारी हुई तो हम लोगों से फिर से 46 हजार रुपया की मांग किया जाने लगा। 46 हजार रुपया देने के बाद शव को कब्जे में लेकर अपने गांव जा रहे हैं। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने मामला की जांच कर रही है। अस्पताल प्रबंधक के द्वारा पूरे मामले पर चुप्पी साध लिया गया है। 

बता दें कि शुक्रवार की देर रात रोह थाना क्षेत्र के साथे गांव निवासी उमेश सिंह की 50 वर्षीय पत्नी संजू देवी की सीना में दर्द हुई। जिसके बाद नवादा के धर्मशिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां नर्स के द्वारा डॉक्टर से फोन पर बात कर इलाज की जा रही थी। ऑनलाइन इलाज के चक्कर में महिला की मौत हो गई। लगातार धर्मशिला देवी अस्पताल के कर्मचारी के द्वारा कहा गया की डॉक्टर साहब आ रहे हैं। थोड़ी देर में आपकी पत्नी ठीक हो जाएगी। लेकिन अंत में पता चला कि संजू देवी की मौत हो गई है। जिसके बाद परिजन के द्वारा जमकर हंगामा शुरू कर दिया गया। 

परिजन ने साफ तौर पर आरोप लगाए हैं कि डॉक्टर की लापरवाही के कारण ऑनलाइन के चक्कर में हमारी पत्नी की मौत हुई है। यह पहली बार नहीं है। यहां अस्पताल के खून को भी खराब बता दिया जाता है। साथ ही गरीब मरीज से मोटी रकम की मांग की जाती है। झांसे में फंसा कर लोग इस अस्पताल में भर्ती करा देते हैं। 

नवादा से अमन सिन्हा की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News