पटना की महिलाओं ने रखा निर्जला व्रत, पति की लंबी उम्र की कामना के साथ सुहागिनों ने पूरा किया तीज व्रत

पटना की महिलाओं ने रखा निर्जला व्रत, पति की लंबी उम्र की कामना के साथ सुहागिनों ने पूरा किया तीज व्रत

पटना. राजधानी पटना के फुलवारीशरीफ, दानापुर बिहटा, मनेर, नौबतपुर और पालीगंज में भी मंगलवार को पति की दीर्घायु होने की कामना का पर्व तीज पारम्परिक तौर तरीके से मनाया गया। इसको लेकर दिन भर पूजा-अर्चना की भी होड़ लगी रही। अखंड सौभाग्य की कामना के साथ किया जाने वाले व्रत की  तैयारी सोमवार को देर शाम पूरी हो गयी। बाजारों में महिलाओं ने बांस की डलिया, श्रृंगार आदि के सामानों की खरीदारी की। मिठाई, फल व कच्ची मिट्टी के शिव-पार्वती की प्रतिमा की दुकानों पर भी भीड़ नजर आई। 

इमरती, केला और दही की दुकानों पर शाम होने के साथ भीड़ बढ़ती गई। कारण कि व्रत से पहले भोर में इन्हीं सामान को खाकर महिलाएं व्रत का संकल्प लेती हैं। उधर घर-घर में सुहागिन महिलाओं ने मेहंदी रचाई और इसमें एक-दूसरे ने सहयोग किया। वहीं कुछ लोगों ने ब्यूटी पार्लर का भी सहारा लिया। मान्यता है कि भगवान शिव को पति के रूप में प्राप्त करने के लिए सबसे पहले हिम पुत्री माता पार्वती ने यह व्रत किया था और कई दिनों तक तपस्या की थी। तभी से इस व्रत को रखने की परंपरा चल रही है। 

सुहागिन महिलाएं तो व्रत रखकर पति के दीर्घायु की कामना करती ही हैं, वहीं मनचाहा वर प्राप्त करने के लिए कुछ कुंवारी कन्याएं भी यह व्रत करती हैं। परंपरा के मुताबिक दिनभर व्रत के बाद रात में शिव-पार्वती को फल-फूल के साथ श्रृंगार सामग्री अर्पित की जाती है। वहीं परंपरा के अनुसार बेटी-बहुओं के लिए उपहार लेकर मंगलवार को भी रिश्तेदारों के पहुंचने का क्रम बना रहा।

Find Us on Facebook

Trending News