बिहार पुलिस में भर्ती होने से पहले युवक की गयी जान, अभ्यास के दौरान गिरकर हुई मौत

बिहार पुलिस में भर्ती होने से पहले युवक की गयी जान, अभ्यास के दौरान गिरकर हुई मौत

KHAGARIA : खगड़िया में एक युवक की अपने घर की माली हालत सुधारने के लिए नौकरी पाने के जुनून ने जान ले लिया है। बिहार पुलिस की नौकरी पाने के लिए अभ्यास दौड़ के दौरान गिरने से आज उसकी मौत हो गयी। मौत के बाद भी कम हंगामा नहीं हुआ। परिजनों ने ऑन ड्यूटी डॉक्टर पर जिंदा युवक को मुर्दा घोषित करने के आरोप में अस्पताल में जमकर बवाल काटा। अस्पताल के डॉक्टर के साथ न केवल धक्का-मुक्की किया। बल्कि तोड़-फोड़ भी किया। बाद में पुलिस के आने के बाद हंगामा शांत हुआ। मामला गोगरी थाना इलाके के जमालपुर बाजार की है। 

दरअसल मोहम्मद वसी नाम का युवक बिहार पुलिस की नौकरी पाने के लिए रोजाना की तरह आज भी दौड़ने का अभ्यास कर रहा था। इसी दौरान गोगरी SDO आवास के पास वह गिर गया। लिहाजा उसे इलाज के लिए गोगरी रेफरल अस्पताल में भर्ती किया गया। जहाँ ऑन ड्यूटी डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। परिजन मोहम्मद वसी को लेकर घर आ गए। लेकिन घर पर लोगों को लगा कि वह जिंदा है। लिहाजा मोहम्मद वसी का घरेलू नुक्शा से इलाज होने लगा। महिलाएं लहसुन और सरसों तेल से मालिश करने लगी। यह प्रक्रिया घण्टों चली। 

बाद में परिजनों ने दुबारा युवक को गोगरी रेफरल अस्पताल में इलाज के लिए लाया। लेकिन डॉक्टर इलाज करने से इनकार कर दिए। जबकि परिजन ऑक्सीजन लगाने की बात कहने लगे। परिजनों के दबाब के बाद दुबारा युवक का इलाज हुआ। जिसके बाद भी डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। फिर क्या था परिजनों का गुस्सा फूट पड़ा। परिजन अस्पताल में तोड़ फोड़ और डॉक्टर के साथ धक्का-मुक्की करने लगा। हंगामा देख बड़ी संख्या में पुलिस को बुलाया गया। तब मामला शांत हुआ। परिजन डॉक्टर पर ईलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगा रहे हैं। जबकि अस्पताल प्रशासन का कहना है युवक मृत हालात में अस्पताल आया था। मृतक वसी पुलिस की नॉकरी पाने के लिए कई सालों से दौड़ने का अभ्यास कर रहा है। कई बार वह शारीरिक परीक्षा में विफल हो गया था। इसके बावजूद हार नहीं माना।

खगड़िया से अनिश कुमार की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News