उत्कर्ष बैंक लूटकांड के 7 आरोपी गिरफ्तार, हथियार कारतूस और घटना में शामिल गाड़ी के साथ कैश बरामद

उत्कर्ष बैंक लूटकांड के 7 आरोपी गिरफ्तार, हथियार कारतूस और घटना में शामिल गाड़ी के साथ कैश बरामद

BUXER : बक्सर पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है, यहां 17 दिन पहले डुमरांव अनुमंडल में 3 अगस्त को डुमरा थाना क्षेत्र के नंदन गांव में उत्कर्ष बैंक में हुए लूट कांड का खुलासा पुलिस ने  किया है। बताते चलें कि डुमरांव थाना क्षेत्र के नंदन गांव स्थित उत्कर्ष स्मॉल फाइनेंस बैंक में अज्ञात अपराध कर्मियों द्वारा डकैती की घटना को अंजाम देते हुए 7 लाख 30 हजा़र रुपए की लूट अपराधियों ने कर ली थी। 

इस मामले में पुलिस ने डुमरांव थाना में मामला दर्ज कर टीम गठित कर जांच शुरू की थी। तहकीकात के बाद पुलिस ने इस अपराध की घटना में शामिल 7 अपराधियों को पुलिस ने धर दबोचा है।इस मामले में अभी भी तीन अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर दबिश बनाई हुई है।  हम आपको बताते चलें कि इस लूट कांड का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया था। जिसके आधार पर पुलिस अपराधियों की पहचान कर उनकी तलाश कर रही थी। 

 इस मामले की जानकारी देते हुए बक्सर एसपी नीरज कुमार सिंह ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज किए जाने के बाद से डुमरांव अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी केके सिंह के नेतृत्व में पूरी टीम इसमें काम कर रही थी, जिसके फलस्वरूप घटना में शामिल अपराधियों को गिरफ्तार करने में अब सफलता मिली है। नीरज सिंह ने बताया कि उत्कर्ष बैंक कर्मियों को बार-बार देर रात बैंक चलाने को लेकर लगातार मना करने के बाद भी बैंक कर्मियों द्वारा लगातार लापरवाही की जा रही थी। उन्हें भी सख्त हिदायत दी गई है। उनके लापरवाही की वजह से इस बड़ी घटना को अपराधियों ने अंजाम दिया है।

सात लाख में सिर्फ 97 हजार की रिकवरी

 पुलिस के अनुसार बैंक से 7 लाख 30 हजार के इस लूट कांड में शामिल अपराधी दूसरी बड़ी अपराध की घटना को अंजाम देने की फिराक में नंदन गांव के बगल में स्थित एक चिमनी भट्ठा पर एकत्रित हुए थे। इस सूचना के मिलने के बाद पुलिस ने अपराध कर्मियों की गिरफ्तारी के लिए गठित टीम ने छापेमारी की, जिसमें 7 अपराधियों को गिरफ्तार करने में पुलिस को सफलता मिली है। पुलिस ने इन अपराधियों के पास से लूट के 97 हजार पांच सौ रुपये बरामद कर लिए हैं। साथ ही पुलिस ने इन अपराधियों के पास से तीन देशी कट्टा, चार जिंदा कारतूस, एक स्कॉर्पियो और एक मोटरसाइकिल भी बरामद किया गया है।  बहरहाल बैंक लूट कांड में शामिल 7 अपराधियों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस इसे बड़ी सफलता मान रही है। 

लगातार देरी के कारण पुलिस के काम पर उठ रहे थे सवाल

आपको बताते चलें कि इस घटना के बाद से ही लगातार पुलिस के कार्यशैली पर सवाल उठ रहे थे और बताया जा रहा था कि पुलिस इस मामले में घटना के कई दिन बीत जाने के बाद भी अपराधियों के गिरफ्तारी नहीं कर पाई है। ऐसे में इस गिरफ्तारी के बाद अब पुलिस ने राहत की सांस ली है। वहीं पुलिस को अभी इस घटना में शामिल तीन अन्य अपराधियों को भी गिरफ्तार करने की चुनौती है। अब देखने वाली बात यह होगी कि पुलिस अब इन फरार तीन अपराधियों की गिरफ्तारी कब तक कर पाती है।

Find Us on Facebook

Trending News