स्टील फैक्ट्री के कर्मचारियों से भरी बस को तेज रफ्तार ट्रक ने मारी टक्कर, छह की मौके पर हुई मौत, इस शहर की है घटना

 स्टील फैक्ट्री के कर्मचारियों से भरी बस को तेज रफ्तार ट्रक ने मारी टक्कर, छह की मौके पर हुई मौत, इस शहर की है घटना

DESK : ओडिशा के झाड़सुगुड़ा से एक बड़ी खबर निकल कर आ रही है। यहां जिंदल स्टील कंपनी की बस का भयानक एक्सीडेंट हुआ है। जिसमें छह लोगों के मारे जाने की खबर है और भारी संख्या में लोग घायल हुए हैं। बताया जा रहा है कि बस जेएसडब्ल्यू भूषण के कर्मचारियों को ड्यूटी से वापस लेकर जा रही थी।

बस में 60 से अधिक लोग थे सवार

झाड़सुगुड़ा पुलिस द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार घटना सारसमल चौक थाना थेलखुली के पास घटित हुई है। जहां पर एक 16 चक्का ट्रक ने जेएसडब्ल्यू भूषण की शिफ्ट बस को जोरदार टक्कर मार दी। जेएसडब्ल्यू भूषण स्टील की यह बस शाम 6:00 बजे की शिफ्ट को लेकर वापस जा रही थी। तभी संबलपुर के पास पीछे से कोयले से लदा एक ट्रक आया और बस में जा घुसा। बस को टक्कर मारने से ट्रक ने दो गायों को भी रौंद दिया और डिवाइडर को तोड़ते हुए बस से जा टकराया। टक्कर इतनी भयानक थी कि बस के पीछे का ऐसा बुरी तरीके से चकनाचूर हो गया। इस दौरान बस में 60 से ज्यादा यात्री मौजूद थे। वहीं हादसे में कई स्थानीय लोगों को सुरक्षित बचा भी लिया गया है।

इस हादसे के बारे में अधिक जानकारी देते हुए झारसुगुड़ा एसडीपीओ, निर्मला महापात्रा ने कहा है कि यह हादसा बहुत भीषण है। हादसे में घायल हुए लोगों को हम बचाने की पुरजोर कोशिश कर रहे हैं। झारसुगुड़ा कलेक्टर सरोज सामल ने भी इस घटना पर दुख जाहिर किया है। उन्होंने कहा, "ट्रक चालक की गैर-जिम्मेदाराना ड्राइविंग के कारण यह दुर्घटना हुई। लगभग 18 को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई, जबकि गंभीर रूप से घायल छह अन्य लोगों को विम्सर ले जाया गया और चार का डीएचएच में इलाज चल रहा है। कलेक्टर ने घायलों के लिए किया फ्री इलाज का ऐलान इसके अलावा, कलेक्टर ने आश्वासन दिया कि घायलों को मुफ्त इलाज मिलेगा और इलाज का सारा खर्च जिला प्रशासन वहन करेगा। उन्होंने कहा, "घायलों के सर्वोत्तम संभव इलाज के लिए उचित व्यवस्था की जाएगी। उनके इलाज के लिए विशेषज्ञ डॉक्टरों की एक टीम नियुक्त की गई है और आवश्यकता के अनुसार इलाज के लिए तत्काल कदम उठाए जा रहे हैं।"

 घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची है। कलेक्टर और एसडीपीओ ने कही कार्रवाई की बात इस हादसे के बारे में अधिक जानकारी देते हुए झारसुगुड़ा एसडीपीओ, निर्मला महापात्रा ने कहा है कि यह हादसा बहुत भीषण है। हादसे में घायल हुए लोगों को हम बचाने की पुरजोर कोशिश कर रहे हैं। झारसुगुड़ा कलेक्टर सरोज सामल ने भी इस घटना पर दुख जाहिर किया है। उन्होंने कहा, "ट्रक चालक की गैर-जिम्मेदाराना ड्राइविंग के कारण यह दुर्घटना हुई। लगभग 18 को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई, जबकि गंभीर रूप से घायल छह अन्य लोगों को विम्सर ले जाया गया और चार का डीएचएच में इलाज चल रहा है


Find Us on Facebook

Trending News