आरा के बाद बाढ़ का जायजा लेते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहुंचे सारण, अधिकारियों को दिए कई निर्देश

आरा के बाद बाढ़ का जायजा लेते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहुंचे सारण, अधिकारियों को दिए कई निर्देश

CHHAPRA : गंगा के जलस्तर मे लगातार हो रही वृद्धि ने राज्य प्रशासन की टेंशन बढ़ा दी है। इसी को लेकर छपरा सदर प्रखंड स्थित दियारा क्षेत्र समेत डोरीगंज व मुस्सेपुर आदि बाढ प्रभावित इलाकों का शुक्रवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दौरा कर, दियारे क्षेत्र के महाजी  तथा मुस्सेपुर पंचायत मे  बाढ पीडि़तों के लिए संचालित बाढ राहत आपदा कैम्प शिविर का निरीक्षण किया। प्रशासनिक काफिले के साथ पटना से आरा छपरा पुल होकर सड़क मार्ग से मुख्यमंत्री करीब दिन के ढाई बजे मुस्सेपुर बंगला पहुचे। जहाँ संचालित बाढ राहत शिविर के साथ मुख्यमंत्री ने पश्चिमी बलुआ के जलमग्न क्षेत्रों का निरीक्षण किया। 

जिसके बाद उक्त स्थल पर बाढ पीडि़तों के लिए संचालित बाढ राहत शिविर का जायजा लिया। इस दौरान पास ही अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र मे मुसेपुर मे संचालित कोरोना वैक्सीनेशन सेन्टर का भी उन्होने जायजा लिया व जिलाधिकारी को कई अहम निर्देश दिए। इस दौरान स्थानीय मुखिया मुन्ना कुमार तथा जिला परिषद उपाध्यक्ष प्रतिनिधि अमरनाथ राय के द्वारा ईलाके को बाढ प्रभावित क्षेत्र घोषित कर, बेघर व बेपनाह बाढ पीडि़तों के लिए नावे तथा शीघ्र तिरपाल उपलब्ध कराए जाने की मांग की। जिसके बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि इसके लिए डीएम साहब को निर्देशित कर दिया गया है शीघ्र ही उपलब्ध हो जाएगा। जिसके बाद मुख्यमंत्री का काफिला ज्योहि रवाना हुआ। तभी पश्चिमी बलुआ गाँव निवासी बाढ पीड़ित दिव्यांग रंजित कुमार साह अचानक मुख्यमंत्री के गाड़ी के आगे खड़ा हो गया। जिसे लगातार पुलिस पीछे धकेलती रही। लेकिन मुख्यमंत्री  से मिलने की जिद्द पर अडिग दिव्यांग डटा रहा। जिसके बाद गाड़ी रोक मुख्यमंत्री बाहर निकले व दिव्यांग की बाते सुनी। उसका कहना था कि बाढ़ मे उसका घर ढह गया है। वह परिवार के साथ  सड़क पर रह रहा है। 

इसलिए उसे घर बनाने के लिए इंदिरा आवास की सुविधा दी जाए। जिसपर मुख्यमंत्री के द्वारा उसकी बाते सुनने के बाद डीएम को इस मामले को देख लेने का निदेश देकर मुख्यमंत्री पुन: अपने काफिले के साथ पटना के लिए रवाना हो गए। वही इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने आरा छपरा से ही दियारा क्षेत्र के जलमग्न तीनो पंचायतो का निरीक्षण कर बाढ पीडि़तों के लिए समुचित व्यवस्था बहाल रखे जाने का मौजूद अधिकारियों को निर्देश दिए। मुख्यमंत्री के आगमन के दौरान जिले के सभी आला अधिकारी उपस्थित थे। डीपीआरओ कन्हैया कुमार ने बताया कि मुख्यमंत्री के दौरे को लेकर बेहतर तैयारी थी।

छपरा से संजय भारद्वाज की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News