बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

BREAKING NEWS

  • सीएम योगी की कार के आगे चल रही एंटी डेमो गाड़ी पलटी, हादसे में पांच पुलिसकर्मी सहित नौ लोग बुरी तरह से चोटिल
  • सीएम योगी की कार के आगे चल रही एंटी डेमो गाड़ी पलटी, हादसे में पांच पुलिसकर्मी सहित नौ

  • हथुआ राज के महाराजा मृगेंद्र प्रताप शाही को मिली मानद डॉक्टरेट की उपाधि, थाईलैण्ड के प्रसिद्ध विश्वविद्यालय ने सामाजिक कार्यों के लिए किया सम्मानित
  • हथुआ राज के महाराजा मृगेंद्र प्रताप शाही को मिली मानद डॉक्टरेट की उपाधि, थाईलैण्ड के प्रसिद्ध विश्वविद्यालय ने

  • कोटा में नीट की तैयारी कर रही छात्रा ने की आत्महत्या की कोशिश, समय रहते पहुंच गई मां
  • कोटा में नीट की तैयारी कर रही छात्रा ने की आत्महत्या की कोशिश, समय रहते पहुंच गई मां

  • जमुई के टीआर नारायण हेरिटेज प्ले स्कूल में धूमधाम से मनाया गया पहला वार्षिकोत्सव, बच्चों ने दी एक से बढ़कर एक प्रस्तुति
  • जमुई के टीआर नारायण हेरिटेज प्ले स्कूल में धूमधाम से मनाया गया पहला वार्षिकोत्सव, बच्चों ने दी एक

  • परिवार से फ्लैट खाली कराने में गुंडों की सहायता लेना कंकड़बाग थाने को पड़ा भारी, दोषी पुलिसकर्मी अपने पॉकेट से देंगे पीड़ित को मुआवजा, हाईकोर्ट का निर्देश
  • परिवार से फ्लैट खाली कराने में गुंडों की सहायता लेना कंकड़बाग थाने को पड़ा भारी, दोषी पुलिसकर्मी अपने

  • सीएम नीतीश ने जल संसाधन विभाग के 1,094 योजनाओं का किया उद्घाटन एवं शिलान्यास, 3,420 करोड़ रुपये की आएगी लागत
  • सीएम नीतीश ने जल संसाधन विभाग के 1,094 योजनाओं का किया उद्घाटन एवं शिलान्यास, 3,420 करोड़ रुपये की

  • प्रधानमंत्री एक साथ देश भर में अमृत भारत स्टेशन योजना के अंतर्गत 554 स्टेशनों के पुनर्विकास का करेंगे शिलान्यास, ECR के 23 स्टेशन भी शामिल
  • प्रधानमंत्री एक साथ देश भर में अमृत भारत स्टेशन योजना के अंतर्गत 554 स्टेशनों के पुनर्विकास का करेंगे

  • समता के प्रवर्तक संत रविदास की 647 वीं जयंती पर पटना महावीर मन्दिर में कार्यक्रम
  • समता के प्रवर्तक संत रविदास की 647 वीं जयंती पर पटना महावीर मन्दिर में कार्यक्रम

  • सीएम नीतीश ने सिमरिया धाम स्थल पर सीढ़ी घाट और अन्य सौदर्यीकरण कार्य का किया लोकार्पण, 115 करोड़ रूपये आई है लागत
  • सीएम नीतीश ने सिमरिया धाम स्थल पर सीढ़ी घाट और अन्य सौदर्यीकरण कार्य का किया लोकार्पण, 115 करोड़

  • रजनीकांत की चोरी हुई स्कॉर्पियो को पुलिस ने 48 घंटे में खोजा, चार शातिर बदमाशों को किया गिरफ्तार
  • रजनीकांत की चोरी हुई स्कॉर्पियो को पुलिस ने 48 घंटे में खोजा, चार शातिर बदमाशों को किया गिरफ्तार

बीसीसीआई ने बदले आइपीएल के नियम, डीआरएस और टाई-ब्रेकर के नियमों में हुआ बड़ा बदलाव

बीसीसीआई ने बदले आइपीएल के नियम, डीआरएस और टाई-ब्रेकर के नियमों में हुआ बड़ा बदलाव

DESK. आइपीएल के 15वें सीजन की शुरुआत 26 मार्च से होने वाली है. इससे पहले भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने टूर्नामेंट के कुछ नियमों में बदलाव किया गया है. इसमें टीमों की प्लेइंग इलेवन से लेकर DRS से जुड़े नियम शामिल हैं. BCCI ने नये सीजन को और बेहतर बनाने के लिए डिसीजन रिव्यू सिस्टम यानी DRS की संख्या बढ़ा दी है. साथ ही बीसीसीआई ने कोरोना से जुड़े नियमों और टाई-ब्रेकर के नियमों में भी बदलाव किये हैं.

किसी टीम में अगर कोरोना से जुड़े मामले सामने आते हैं तो उसकी प्लेइंग XI में बदलाव किया जा सकता है. अगर टीम प्लेइंग-XI तैयार नहीं कर पाती है तो उस मैच को बाद में फिर से शेड्यूल किया जा सकेगा. अगर बाद में भी मैच नहीं हो पाता है तो फिर मामले को तकनीकी समिति के पास भेजा जायेगा. समिति जो फैसला करेगी उसको ही तय माना जायेगा. बता दें कि IPL में अब तक नियम था कि अगर मैच दोबारा शेड्यूल करने के बाद पूरा नहीं होता है तो पीछे रहने वाली टीम को हारा हुआ मानकर दूसरी टीम को दो पॉइंट्स दिये जायेंगे.

इसके अलावा बीसीसीआई ने डीआरएस नियमों में भी बदलाव किया है. अब हर पारी में टीमों को एक की जगह दो DRS मिलेंगे. यानी मैच में टीम 4 DRS ले पायेगी. साथ ही बोर्ड ने मेरिलबोन क्रिकेट क्लब की ओर से बदले गये कैच के नियम को टूर्नामेंट में लागू करने का फैसला किया है. MCC के नये नियम के अनुसार, अगर कोई भी बल्लेबाज कैच आउट होता है तो स्ट्राइक बदली हुई नहीं मानी जायेगी और नया बल्लेबाज ही स्ट्राइक पर आयेगा. अगर कैच ओवर की आखिरी गेंद पर होता है तो स्ट्राइक बदली जायेगी.

प्लेऑफ और फाइनल में टाई-ब्रेकर के नियम को भी बदला गया है. अगर किसी प्लेऑफ या फाइनल मैच में मुकाबला टाई होने के बाद सुपर ओवर नहीं हो पाता या सुपर ओवर के बाद जरूरत पड़ने पर अगला सुपर ओवर नहीं हो पाता है तो मैच के विनर का फैसला लीग स्टेज में दोनों टीमों के रिजल्ट के आधार पर किया जायेगा. मतलब जो टीम लीग स्टेज में अपनी विपक्षी से ऊपर होगी उसे विजेता माना जायेगा.