टीकाकरण महाअभियान को लेकर आयोजित बैठक से बीडीओ-सीओ बिना सूचना नदारद, गुस्साए डीएम ने कहा - आदत सुधार लें, नहीं करुंगा बर्दाश्त

टीकाकरण महाअभियान को लेकर आयोजित बैठक से बीडीओ-सीओ बिना सूचना नदारद, गुस्साए डीएम ने कहा - आदत सुधार लें, नहीं करुंगा बर्दाश्त

NAWADA : जिले में पंचायत चुनाव का आगाज हो चुका है। 31 अगस्त को टीकाकरण का महा अभियान चलाया जाना है। इस बीच कई अधिकारियों की मनमर्जी जारी है। आलम यह है कि बगैर अवकाश स्वीकृत कराए अधिकारी मुख्यालय से बाहर हैं। इस पर जिलाधिकारी यशपाल मीणा ने गहरी नाराजगी प्रकट की है।

बता दें कि सोमवार को टीकाकरण अभियान की सफलता को लेकर समाहरणालय सभागार में आयोजित बैठक में डीएम ने पाया कि बैठक से कई प्रखंड विकास पदाधिकारी और अंचलाधिकारी अनुपस्थित हैं। इसके आलोक में उन्होंने अनुपस्थित बीडीओ-सीओ की जानकारी ली तो पता चला कि कई अधिकारी मुख्यालय छोड़ कर कहीं बाहर गए हुए हैं। यह जानकारी मिलते ही जिलाधिकारी विफर पड़े। उन्होंने दो टूक कहा कि इस प्रकार की कार्यशैली कतई उचित नहीं है। सभी नवपदस्थापित बीडीओ-सीओ अपनी कार्यशैली में सुधार लाएं, अन्यथा कार्रवाई की जाएगी। बगैर अवकाश स्वीकृत कराए मुख्यालय नहीं छोड़ना है। अपने दायित्व का इमानदारी से निवर्हण करें। जिला सूचना जनसंपर्क पदाधिकारी सत्येंद्र प्रसाद ने बताया कि नरहट, मेसकौर, सिरदला व रजौली के बीडीओ-सीओ बगैर अवकाश स्वीकृत कराए मुख्यालय से बाहर थे। 


गौरतलब है कि पंचायत चुनाव की डुगडुगी बज चुकी है। प्रशासनिक तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं। पहले चरण में गोविंदपुर प्रखंड में मतदान होना है। स्वच्छ, निष्पक्ष और भयमुक्त वातावरण में चुनाव संपन्न कराने के लिए जिला स्तरीय अधिकारी पूरी मुस्तैदी से लगे हुए हैं। ऐसे में प्रखंड स्तरीय पदाधिकारियों का इस प्रकार का गैर जिम्मेदाराना व्यवहार भारी पड़ सकता है। बता दें कि बीडीओ को पंचायत चुनाव के मद्देनजर निर्वाची पदाधिकारी भी बनाया गया है।

Find Us on Facebook

Trending News