BIHAR NEWS : कोरोना से ढाई माह के मासूम बच्चे की हुई मौत, 24 घंटे के अंदर तीन और सगे भाई-बहनों ने दम तोड़ा

BIHAR NEWS : कोरोना से ढाई माह के मासूम बच्चे की हुई मौत, 24 घंटे के अंदर तीन और सगे भाई-बहनों ने दम तोड़ा

DARBHANGA : उत्तर बिहार के सबसे बड़े अस्पताल दरभंगा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में रविवार की शाम उस वक्त हड़कंप मच गया, जब लोगों को यह जानकारी लगी कि शिशु रोग विभाग में कोरोना से पहली मौत ढाई माह के बच्चे की हुई है। मौत की खबर सुनने के बाद पूरा अस्पताल प्रशासन हरकत में आया और बच्चे की डेड बॉडी को कोविड प्रोटोकॉल के हिसाब से परिजनों को सौपते हुए एम्बुलेंस से मधुबनी भेज दिया।

 नवजात कोरोना मरीज के संबंध में बताया जा रहा है कि कोरोना से मृत बच्चा को उनके परिजन के द्वारा रविवार की सुबह 6 बजे भर्ती कराया गया। इससे पहले उसका इलाज पटना के एक प्राइवेट नर्सिंग होम में हो रहा था। जब वहां बच्चे की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उसे वहां से डिस्चार्ज कर दिया गया। जिसके बाद बच्चे के परिजन ने उसे DMCH के शिशु रोग विभाग में भर्ती कराया। वही डॉक्टर ने बच्चे की हालात को नाजुक देखते हुए शिशु विभाग के ICU के वेंटिलेटर पर रखकर बचाने की काफी कोशिश की। लेकिन इलाज के क्रम में रविवार के ही शाम 4:30 बजे उसकी मौत हो गई। वही इस उम्र के बच्चे की कोरोना से मौत का यह दुर्लभ मामला है। 

इसके अलावा शिशु वार्ड में मधुबनी जिला के इटहरवा गांव निवासी रामपुनीत यादव के तीन बच्चे चंदन, पूजा व आरती की मौत भी पिछले 24 घंटे में हो गई। वहीं रामपुनीत यादव तीनों बच्चे को 28 मई की शाम शिशु वार्ड में भर्ती करवाया। वहीं 29 मई की देर शाम चंदन और पूजा की मौत हो गई। तथा 30 मई को आरती की भी मौत हो गई। इन सभी को निमोनिया जैसे लक्षण थे। सभी को बुखार, सांस फूलना व देह-हाथ में सूजन से परेशान थे। 

इस मामले में DMCH प्रशासन ने कहा कि एक ढाई माह की बच्चे की मौत कोरोना से हुई है। जिसे कोविड प्रोटोकॉल के तहत परिजन को सौंप दिया गया है। वही तीन बच्चों की मौत निमोनिया रोग से ग्रसित होने के कारण हुई है। इन लोगों की कोरोना जांच करवाई गई थी। जिसमे रिपोर्ट निगेटिव आई थी। सभी बच्चे में खून की कमी थी और निमोनिया से पीड़ित थे।

पप्पू यादव ने कहा - कोरोना की तीसरी लहर का कहर

दरभंगा मेडिकल कॉलेज में हुए चार बच्चों की मौत को लेकर सियासत भी शुरू हो गई है। जेल में बंद जाप सुप्रीमो पप्पू यादव ने इन मौतों को कोरोना की तीसरे लहर के कहर से जोड़ते हुए केंद्र और राज्य सरकार पर लापरवाही के आरोप लगाए हैं। पप्पू यादव ने कहा है कि राज्य सरकार अपनी वाह वाही में व्यस्त है, वहीं केंद्र की मोदी सरकार मन की बात कर रही है


Find Us on Facebook

Trending News