सीएम नीतीश पर बीजेपी ने किया जोरदार हमला, कहा मुख्यमंत्री के नाकारापन से बिहार में 4.50 लाख रिक्तियां

सीएम नीतीश पर बीजेपी ने किया जोरदार हमला, कहा मुख्यमंत्री के नाकारापन से बिहार में 4.50 लाख रिक्तियां

PATNA : भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता अरविन्द कुमार सिंह ने कहा है कि तेजस्वी यादव ने चुनाव के वक्त बिहार के युवाओं को सपना दिखाया कि राजद की सरकार बनेगी तो दस लाख सरकारी नौकरियां पहले ही कैबिनेट में पास करा दी जाएगीं।  किसानों की कर्ज माफी करेंगे, शिक्षकों के लिए समान काम समान वेतन देंगे, जीविका दीदियों के मानदेय में बढ़ोतरी के साथ नियमित वेतन और नौकरी देंगे, महंगी बिजली दर कम करना, पुरानी पेंशन योजना लागू करना, ऐसे 25 वादे तेजस्वी यादव ने किए थे।  अब जब राजद को सत्ता मिल गई है, तेजस्वी यादव सत्ता में आ गए, तो अब तेजस्वी यादव अपने वादे से मुकर गए हैं। जबकि मुख्यमंत्री के नकारा पन के कारण बिहार में 4 लाख 50 हज़ार रिक्तियाँ पहले से ही है। शिक्षा, स्वास्थ्य, गृह विभाग सहित अन्य विभागों में राष्ट्रीय औसत के मानकों के हिसाब से बिहार में अभी 5 लाख 50 हज़ार नियुक्तियों की अत्यंत आवश्यकता है। 

उन्होंने कहा की बिहार की जनता के साथ विश्वासघात कर उनको ठगने का काम किया जा रहा है। दोनों दल राजद और जनता दल यूनाइटेड अलग-अलग गठबंधन से जनता से वोट मांगा और दोनों दल कुर्सी के लिए जनता को धोखा देकर एक साथ गठबंधन कर जनता को ठगने का काम किया है। वही कहा की नीतीश कुमार  जिससे अब मिले हैं उसके खिलाफ शुरू से लड़ते रहे हैं।  आपने ने बिहार की जनता के द्वारा 2020 में दिए गए जनादेश का अपमान किया है  एवं भाजपा द्वारा इतना सम्मान देने के बावजूद आपने भाजपा की पीठ में छुरा मारने का काम किया है। और जेडीयू के बड़े नेताओं के द्वारा झूठ बोलने का इंटरनेशनल रिकॉर्ड कायम किया गया है, जो बेशर्मी से मुखर होकर बोलते हैं।

अरविन्द ने कहा है कि पिछली बार जब मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने जब आरजेडी के साथ गठबंधन तोड़ा तो आपने कहा कि भ्रष्टाचार पर कोई समझौता नहीं करूंगा। आपने कहा कि तेजस्वी यादव जवाब नहीं दे पाए इसलिए गठबंधन तोड़ा। उस समय तक सिर्फ़ सीबीआई ने छापा मारा था, अब तो सीबीआई ने चार्जशीट फाइल कर दी, आपके मंत्रिमंडल में जो डिप्टी सीएम बने हैं उन पर चार्जशीट हो चुकी है। इसका मतलब यह है की आपने भ्रष्टाचार के साथ समझौता कर लिया है। आपके स्वार्थ एवं अवसरवादीता के कारण पूरे बिहार को क्षति हो रही है। एक तरफ राजद की गोद में बैठी जदयू के साथ महागठबंधन हुआं तो उसके साथ बिहार में महागठबंधन का 'गुंडाराज' भी आ गया। 

जगह-जगह से दुष्कर्म, लूट, हत्या, अपराध की खबरें आने लगी, पूरे बिहार में चोरी, स्नैचिंग, हत्या, दुष्कर्म, लूट का तांडव मचा हुआ है। बिहार में जंगल राज दोबारा आ गया है। जहां भाजपा के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार में बिहार में उद्योग लग रहे थे।  सड़के,फ्लाईओवर, एयरपोर्ट बन रहे थे लोग अमन चैन से रह रहे थे।  वही आज बिहार में पुनः जंगलराज की वापसी हुई है। मुख्यमंत्री नितीश कुमार द्वारा बिहार के जनता के साथ विश्वासघात कर बिहार की जनता को ठगने का काम किया गया है।   इसी जंगलराज, भ्रष्टाचार एवं परिवारवाद के खिलाफ भाजपा सतत लड़ती रही है और आगे भी लड़ती रहेगी। पहले जेडीयू  था, अब जनता को दमन और उत्पीड़न करने वाला पार्टी हो गया है जेडीयू।   जिसके मुखिया हैं नीतीश कुमार।

Find Us on Facebook

Trending News