पटना में राहत सामग्री गिराने के लिए आ रहा 2 हेलीकॉप्टर, घर-घर दूध और पानी पहुँचाने की तैयारी में सरकार

पटना में राहत सामग्री गिराने के लिए आ रहा 2 हेलीकॉप्टर, घर-घर दूध और पानी पहुँचाने की तैयारी में सरकार

News4Nation: पटना के कुछ महलों में हालात बद से बदतर है।  राजेंद्र नगर बहादुरपुर कंकड़बाग इलाकों में हजारों लोग अभी भी घर में फंसे हैं। बुजुर्ग से लेकर बच्चों तक के हालात बुरे हैं। पहला तल्ला डूबा हुआ है। सड़कों पर 5 से 6 फुट पानी है।  गाड़ियां डूब चुकी हैं।  टू व्हीलर्स का कोई अता पता नहीं।  हिम्मत बांधकर लोग सड़कों के सहारे हैं पटना से पलायन पर मजबूर हैं।

देर रात बारिश अपना जोर दिखाती रही लोग भगवान का नाम लेते रहे। हालांकि जिला प्रशासन के कुछ अधिकारी जरूर सहायता कार्य में जुटे दिखे। कई इलाकों के सरेंडर कर चुके इस स्थिति में पानी की निकासी मुश्किल हो रही है।  कल ही जज साहब को निकालने के लिए स्तर के अधिकारियों ने अपना जोर लगाया और जज साहब को कदम कुआं इलाके से बाहर निकाला गया। 

लेकिन फिलहाल राजेंद्र नगर बहादुरपुर सैदपुर की स्थिति है वह काफी बदतर है।  हालांकि कहा जा रहा है कि आज से राजेंद्र नगर इलाके में दूध और पानी पहुंचाने की तैयारी की जा रही है। वही वायु सेना से दो हेलीकॉप्टर मांगे गए हैं।  ताकि राहत सामग्री लोगों के घर पर गिराया जा सके।  बता दें उत्तर बिहार में भी उसी और सीमांचल के निचले इलाकों में बाढ़ के पानी से लोग घिरने लगे हैं।  इंद्रपुरी बराज के द्वारा और नेपाल की तराई में लगातार हो रहे पानी से छोटी-छोटी नदियां उफान पर आ सकती हैं।  और अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच सकते हैं।  पटना के इर्द-गिर्द ही नहीं बल्कि उत्तर बिहार के इलाकों में स्थिति और खराब होने की संभावना है 

Find Us on Facebook

Trending News