....तो BJP अध्यक्ष संजय जायसवाल ने CM नीतीश को लिखी चिट्ठी में 'जय श्रीराम' का नारा लगाने वाले मंत्री को लिया है निशाने पर?

....तो BJP अध्यक्ष संजय जायसवाल ने CM नीतीश को लिखी चिट्ठी में 'जय श्रीराम' का नारा लगाने वाले मंत्री को लिया है निशाने पर?

PATNA: बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने राजनेता-ठेकेदार और इंजीनियरों की तिकड़ी की कारस्तानी की पोल खोलकर पूरे बिहार में सनसनी फैला दी है। संजय जायसवाल ने सीएम नीतीश को पत्र लिखकर दोषियों पर कार्रवाई की मांग कर डाली है।बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष के पत्र के बाद बिहार की राजनीति एक बार फिर से गरम हो गई है।संजय जायसवाल ने एक राजनेता की भूमिका पर सवाल उठाया है और कहा है कि उनकी मिलीभगत से हीं भ्रष्टाचार को बढ़ावा मिल रहा है।

आखिर संजय जायसवाल ने किस राजनेता पर सवाल उठाया इस पर चर्चा तेज है।कोई सत्ता पक्ष के नेता के नाम की चर्चा कर रहा तो कोई विपक्ष के नेता का।लेकिन बीजेपी अध्यक्ष ने पूरी जानकारी इकट्ठा कर हीं तीर निशाने पर साधा है। जानकारों का कहना है कि उनका निशाना सीधे तौर जय श्री राम का नारा लगाकर फजीहत झेल चुके नीतीश सरकार के एक मंत्री पर है।बताया जाता है कि जिस इलाके की सड़क निर्माण में 90 लाख रू से अधिक के घोटाले का आरोप लगाकार सीएम नीतीश को पत्र लिखा गया है उस इलाके में बिना माननीय की इच्छा के कुछ भी नहीं होता।कोई भी ठेकेदार बिना उनकी मर्जी के उस इलाके में कोई काम नहीं करा सकता।

जानकार सूत्रों की मानें तो जिस सड़क निर्माण में घोटाले का आरोप लगाया है उसके ठेकेदार और जय श्रीराम का नारा लगाकर चर्चा में आए मंत्रीजी का बड़ा हीं घनिष्ट संबंध है। बताया जाता है कि पिछली दफा मंत्री ने उक्त ठेकेदार को टिकट दिलाने को लेकर खूब लॉबिंग की थी,लेकिन विरोधियों ने साहेब के पास ठेकेदार की पूरी कुंडली हीं पहुंचा दी।लिहाजा मंत्री अपने मंसूबे में कामयाब नहीं हो सके थे। 

अब आपके भीतर यह सवाल उठ रहा होगा कि आखिर वे मंत्री जी हैं कौन...?हम आपको बता देते हैं कि ये वही मंत्री हैं जो विस परिसर में जय श्रीराम का नारा लगाकर भारी परेशानी में घिरे थे।उनकी मुसीबत तब और बढ़ गई थी जब उनके हीं समाज के लोगों ने भारी विरोध किया था।बड़ी मुश्किल से सरकार के स्तर पर प्रयास और माफीनामे के बाद मंत्रीजी बरी हुए थे।




Find Us on Facebook

Trending News