मीटिंग छोड़कर जानेवाले सुधाकर सिंह विवाद पर बोले सीएम नीतीश, इस पर उप मुख्यमंत्री देंगे बेहतर जवाब

मीटिंग छोड़कर जानेवाले सुधाकर सिंह विवाद पर बोले सीएम नीतीश, इस पर उप मुख्यमंत्री देंगे बेहतर जवाब

PATNA : बिहार के कृषि मंत्री सुधाकर सिंह इन दिनों अपने काम से ज्यादा अपने बयान को लेकर चर्चा में हैं। जिस तरह से कैबिनेट की मीटिंग सीएम को उन्होंने जवाब दिया और बैठक से उठकर चले गए, उस पर अब खुद सीएम ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। सीएम ने कहा कि इस सवाल का ज्यादा बेहतर जवाब उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ही दे सकते हैं कि उन्होंने ऐसा क्यों किया। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि हम तो कैबिनेट की मीटिंग में कृषि मंत्री सुधाकर सिंह से उनके विभाग के बारे में कही गई बातों और इसकी वजहों के बारे में जानना चाह रहे थे। लेकिन वे उठकर चल दिए। सबने उनको समझाया। नहीं बताए।.. मुख्यमंत्री ने कहा कि उनका मीडिया में स्टेटमेंड आया था, जिस पर मैंने पूछा था कि क्या हुआ है। अफसरों को कहा- इसको देख लीजिए। वे मंत्री हैं। उनके दिमाग में अपने विभाग के बारेमें ऐसी बाते हैं तो डिपार्टमेंट के बारे में पूरी जानकारी ले लीजिए। लेकिन, इसके बाद भी वह बैठक से उठकर चल दिए।

सुधाकर सिंह ने कहा मैं लालू तेजस्वी को मानता हूं

मैं लालू प्रसाद और तेजस्वी यादव के कहने पर विभाग में मंत्री बना हूं। उन्होंने कहा कि आनंद मोहन, जार्ज फर्नांडिस, दिग्विजय सिंह समेत कइयों ने परेशानी झेली है, मैं भी झेला हूं। सरकारों की मार से कोई नहीं बचा है। चार माह मुझे जेल रहना पड़ा है। इस दौरान कृषि मंत्री ने कहा कि विभाग की गड़बड़ी को सुधारेंगे और कृषि विभाग को खूंटा ठोंक कर चलाएंगे।

सुधाकर सिंह ने कहा मंत्री पद से इस्तीफे की चर्चा पर कहा कि मैं राष्ट्रीय जनता दल का कार्यकर्ता हूं और राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद चाहते हैं कि मैं मंत्री पद पर रहूं तो मैं हूं। उन्हें लगेगा कि मुझसे ज्यादा काबिल कोई है तो उन्हें यहां भेज दिया जाएगा

यह था पूरा विवाद

बतादें कि कैमूर के एक कार्यक्रम में कृषि मंत्री ने अपने ही विभाग के अधिकारियों और कर्मियों पर भ्रष्टाचार में लिप्त होने तथा खुद को इन भ्रष्टाचार का सरदार बताया। बाद में बिहार कैबिनेट की मीटिंग में भी नीतीश कुमार की मौजूदगी में जिस तरह बैठक छोड़कर चल दिए।

Find Us on Facebook

Trending News