बिहार विधान सभा के शताब्दी समारोह की तैयारियों का सीएम ने लिया जायजा, परिसर को सुन्दर और मोहक बनाने का दिया निर्देश

बिहार विधान सभा के शताब्दी समारोह की तैयारियों का सीएम ने लिया जायजा, परिसर को सुन्दर और मोहक बनाने का दिया निर्देश

PATNA : बिहार विधान सभा भवन शताब्दी वर्ष समारोह ऐतिहासिक तथा भव्य होगा। इसे यादगार बनाने के लिए बिहार विधान सभा परिसर में मुख्य भवन के सामने बोधगया से लाकर एक बोधि वृक्ष लगाया जायेगा। विधान सभा भवन के सौ वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में इसके मुख्य परिसर में एक शताब्दी स्मृति स्तंभ भी लगाया जायेगा, जिसका शिलान्यास इस कार्यक्रम में शामिल होने आ रहे भारत के महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से कराने की तैयारी है। इस कार्यक्रम की तैयारियों के लिए आज बिहार विधान सभा के अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ बिहार विधान सभा परिसर का गहन निरीक्षण किया। 

इस दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सभा परिसर को और अधिक सुंदर तथा मोहक बनाने के लिए भवन निर्माण के सचिव तथा अभियंताओं को मौके पर आवश्यक निदेश दिया। उन्होंने कहा की कार्यक्रम 21 अक्टूबर को निर्धारित है और इसमें राष्ट्रपति आ रहे हैं. बीच में दशहरा भी है, इसलिए इस कार्य को प्राथमिकता में लेकर कल से ही शुरू करा दें। सिन्हा के साथ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार विधान सभा पार्किंग स्थल, उपभवन, विस्तारित भवन के बेसमेंट आदि का भी गहन निरीक्षण किया। 

इस दौरान बिहार विधान परिषद के कार्यकारी सभापति अवधेश नारायण सिंह, बिहार विधान सभा के उपाध्यक्ष महेश्वर हजारी, बिहार सरकार के उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद, संसदीय कार्य मंत्री विजय कुमार चौधरी, भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी, जल संसाधन मंत्री संजय झा, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार, भवन निर्माण विभाग के सचिव कुमार रवि, जिलाधिकारी, पटना चंद्रशेखर सिंह, वरीय पुलिस अधीक्षक उपेंद्र कुमार शर्मा सहित भवन निर्माण विभाग के सभी पदाधिकारी भी मौजूद थे।

इस निरीक्षण से पूर्व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, बिहार विधान परिषद् के कार्यकारी सभापति अवधेश नारायण सिंह बिहार विधान सभा के उपाध्यक्ष महेश्वर हजारी, बिहार सरकार के उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद, भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी, संसदीय कार्य मंत्री विजय कुमार चौधरी तथा जल संसाधन मंत्री संजय झा ने विधान सभाध्यक्ष के कार्यालय कक्ष में इस विषय पर गहन विचार-विमर्श भी किया।

पटना से विवेकानंद की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News