कोरोना की तीसरी लहर : पटना कमिश्नर और आईजी ने अधिकारियों की ली बैठक, दिये आवश्यक निर्देश

कोरोना की तीसरी लहर : पटना कमिश्नर और आईजी ने अधिकारियों की ली बैठक, दिये आवश्यक निर्देश

पटना. पटना प्रमंडलीय आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल एवं पुलिस महानिरीक्षक संजय सिंह ने कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए तैयारियों को लेकर अधिकारियों की बैठक ली. साथ ही कोरोना गाइडलाइंस को लेकर अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये.

डीआरसीसी में कोविड कंट्रोल रूम हुआ फंक्शनल

बैठक में अवगत कराया गया कि जिला स्तर पर कोविड कंट्रोल रूम भी निबंधन एवं परामर्श केंद्र में कार्यरत हो चुका है, जिसका दूरभाष संख्या 0612- 22 190 80 / 224 9964 है. इस नंबर पर कोई भी व्यक्ति कोविड से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकते हैं. इसके लिए तीन पालियों मैं कर्मियों की तैनाती कर कंट्रोल रूम को कार्यरत बनाया गया है. कांटेक्ट ट्रेसिंग सेल को भी सक्रिय कर दिया गया है तथा संपर्क में आने वाले लोगों से आवश्यक फीडबैक प्राप्त कर आवश्यक कार्रवाई  जारी है.

52PHC/ CHC/UPHC में टेस्टिंग का कार्य जारी

आयुक्त ने सिविल सर्जन एवं जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी को शहरी क्षेत्र में टेस्टिंग कार्य पर विशेष ध्यान देने तथा तेजी लाने का निर्देश दिया. ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र के 52 PHC/ CHC/ UPHC में कोई भी व्यक्ति जाकर अपना सैंपल दे सकता है तथा उन्हें 24 घंटे में रिपोर्ट भी मिल जाएगा. साथ ही 5 मोबाइल टीम को भी सक्रिय बनाया गया है, जो भ्रमणशील रहकर सैंपल लेकर  टेस्टिंग करेगी.

डीएम को प्राइवेट लैब से डाटा अपलोडिंग कराने का निर्देश

आयुक्त ने जिलाधिकारी को कोविड के आंकड़ों एवं प्रवृत्ति की वास्तविक स्थिति की प्रतिदिन मॉनिटरिंग हेतु प्राइवेट लैब को भी टेस्टिंग से संबंधित आंकड़ा प्रतिदिन पोर्टल पर अपलोड कराने का निर्देश दिया है. अभी 9 प्राइवेट लैब को टेस्टिंग के लिए अनुमति प्राप्त है. आयुक्त ने उक्त कार्य से संबंधित सभी लैब का सत्यापन कराने के लिए टीम गठित करने का निर्देश दिया है. अधिकारियों द्वारा संबंधित प्राइवेट लैब में संचालित टेस्टिंग के कार्य तथा डेटा प्रविष्टि तथा अपलोडिंग की पद्धति एवं समय की वास्तविक स्थिति की जांच की जाएगी.

जिलांतर्गत 6579305 व्यक्ति हुए टीकाकृत

जिला अंतर्गत टीकाकरण में तेजी आई है. अब तक 65 79305 लोगों को टीकाकृत किया जा चुका है, जिसमें प्रथम डोज वाले व्यक्तियों की संख्या 3610000 तथा दूसरा डोज लेने वाले व्यक्तियों की संख्या 2969 305 है. जिला कोविड केयर  सेंटर के रूप में पाटलिपुत्रा स्पोर्ट्स कंपलेक्स कंकड़बाग को किया गया कार्यरत 112 बेड एवं 400 ऑक्सीजन सिलेंडर सहित कई अन्य व्यवस्था मौजूद है.

पाटलिपुत्रा स्पोर्ट्स कंपलेक्स कंकड़बाग 112 बेड तथा 400 ऑक्सीजन सिलेंडर युक्त  कोविड केयर सेंटर है. इस सेंटर पर सेंट्रल ऑक्सीजन मैनीफोल्ड, 150 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर एवं बेड पर पाइपलाइन द्वारा ऑक्सीजन की व्यवस्था भी की गई है तथा सीसीटीवी मॉनिटरिंग की सुविधा है. 9 एचडीयू बेड की भी व्यवस्था है, जिसमें 10 लीटर का ऑक्सीजन कंसंट्रेटर/ मॉनिटर एवं दवा उपलब्ध है. यह सेंटर  24×7 के रूप में कार्यरत रहेगा तथा कंट्रोल रूम अथवा अन्य माध्यमों से प्राप्त जानकारी के आधार पर आवश्यकतानुसार उन्हें बेड एवं ऑक्सीजन युक्त  सुविधा त्वरित रूप से उपलब्ध कराई जा सकती है.

तीनों मेडिकल कॉलेज अस्पताल पीएमसीएच, एनएमसीएच एवं आईसीआईएमएस में क्रायोजेनिक टैंक ऑक्सीजन लग चुके हैं. जहां लिक्विड ऑक्सीजन पाइप के माध्यम से ऑक्सीजन बेड तक उपलब्ध रखने की व्यवस्था की गई है. इस अवसर पर उन्होंने कहा कि यहां पर ऑक्सीजन सिलेंडर की कोई कमी नहीं है. पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है. इस बार किसी को दिक्कत नहीं होगी. डॉक्टर की भी व्यवस्था की गई है और मेडिसिन भी उपलब्ध करवाया गया है. किसी को भी अगर एडमिट होने की जरूरत है तो यह सब पहले से तैयार है. पटना के बड़े मेडिकल कॉलेज पीएमसीएच एएमसीएच मे क्रायोजेनिक टैंक ऑक्सीजन लग चुके हैं, जहां लिक्विड ऑक्सीजन पाइप के माध्यम से ऑक्सीजन  बेड तक उपलब्ध रखने की व्यवस्था की गई है.

जागरूकता एवं मास्क चेकिंग का अभियान जारी

पटना शहर में 5 धावा दल द्वारा जागरूकता एवं मास्क चेकिंग का अभियान सतत रूप से 13 दिसंबर से ही शुरू है, जो अभी लगातार जारी रहेगा. धावा दल द्वारा भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में मास्क का अनुपालन सुनिश्चित कराने हेतु मायकिंग द्वारा जागरूकता एवं मास्क चेकिंग का अभियान लगातार जारी है. इस क्रम में 5 टीम के द्वारा विभिन्न रूटों पर मास्क का अनिवार्य प्रयोग करने हेतु लोगों को मायकिंग द्वारा जागरुक एवं प्रेरित किया जा रहा है तथा उल्लंघन करने वालों के विरुद्ध दंडात्मक रूप में जुर्माना भी किया जा रहा है.

15 दिसंबर को धाबा दल द्वारा. कुल 24800 रु की जुर्माना राशि वसूली की गई है, जिसमें 31 वाहनों से ₹22600 तथा 44 व्यक्ति से 2200रू की जुर्माना वसूली की गई है. अब तक  कुल ₹49950 के जुर्माना की वसूली की गई है, जिसमें 50 वाहन से ₹47200 तथा 55 व्यक्ति से 2750 रुपए की वसूली की गई है. धावा दल द्वारा जागरूकता एवं मास्क चेकिंग का अभियान अभी लगातार जारी रहेगा. धाबा दल में मजिस्ट्रेट पुलिस पदाधिकारी एवं अन्य कर्मी मौजूद हैं, जिनके द्वारा प्रचार प्रसार एवं मास्क चेकिंग भी किया जा रहा है.

आयुक्त ने तीसरी लहर को देखते हुए लोगों से मास्क का अनिवार्य प्रयोग करने की अपील की है. उन्होंने कहा कि लोगों को सजग एवं सावधान रहने की जरूरत है, किंतु घबराना नहीं है. कोरोना की प्रवृत्ति के हर पहलू पर प्रशासनिक स्तर पर पूरी नजर रखी जा रही है तथा लगातार मॉनिटरिंग की जा रही है. घबराने की तनिक भी जरूरत नहीं है. आयुक्त ने अधिकारियों को भी अलर्ट मोड में रहने तथा आगे की तैयारी रखने का निर्देश दिया है, ताकि जरूरत पड़ने पर उपयोग किया जा सके.

बैठक में डीएम डॉ चंद्रशेखर सिंह, एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा, ग्रामीण एसपी विनीत कुमार, सिटी एसपी मध्य अंबरीश राहुल, अपर समाहर्ता राजस्व राजीव श्रीवास्तव, अपर समाहर्ता सामान्य विनायक मिश्रा, अपर समाहर्ता विशेष कार्यक्रम अरुण कुमार झा, अपर समाहर्ता आपूर्ति निर्मल कुमार, सिविल सर्जन डॉ. विभा कुमारी और जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. एसपी विनायक सहित कई अन्य अधिकारी मौजूद रहे.

Find Us on Facebook

Trending News