बिहार उत्तरप्रदेश मध्यप्रदेश उत्तराखंड झारखंड छत्तीसगढ़ राजस्थान पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली पश्चिम बंगाल

BREAKING NEWS

मुजफ्फरपुर में शराब पार्टी के दौरान उप मुखिया की गोली मारकर हत्या, भाग रहे आरोपी को भी भीड़ ने पीट-पीटकर मार डाला

मुजफ्फरपुर में शराब पार्टी के दौरान उप मुखिया की गोली मारकर हत्या, भाग रहे आरोपी को भी भीड़ ने पीट-पीटकर मार डाला

मुजफ्फरपुर. जिले के पारू थाना के बसंतपुर के उपमुखिया पंकज सहनी (33) की गोली मारकर देर रात हत्या कर दी गई। वहीं घटना को अंजाम देकर भाग रहे आरोपी गौरव कुमार उर्फ भुटकुन (32) को भी ग्रामीणों ने पीट-पीटकर मार डाला। घटना को लेकर गांव में भारी तनाव है। घटना की सूचना मिलने पर थानेदार रामनाथ प्रसाद समेत काफी संख्या में पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे और अक्रोशितों को समझाकर शांत कराया। वहीं पुलिस ने दोनों शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया है। मौके से पिस्टल बरामद की गयी। इसी से उप मुखिया पंकज की गोली मारकर हत्या की गई थी। एक गोली उसके सीने के पास लगी थी, जिससे उनकी मौत हो गई। मिली जानकारी के अनुसार यह घटना एक शराब पार्टी के दौरान हुई।

घर से सौ मीटर दूरी पर घटना

मृतक उप मुखिया के बड़े भाई संतोष सहनी ने बताया कि घटना घर से महज सौ मीटर की दूरी पर घटी है। चौक पर दुर्गा पूजा का मेला लगा था। पंकज को किसी परिचित ने कॉल कर बुलाया था। वे उससे मिलकर रात को घर लौट रहे थे। आरोपी गौरव का घर पड़ोस में है। सबलोग साथ में ही लौट रहे थे। इसी दौरान क्या बात हुई। ये किसी को पता नहीं। अचानक से गोली चलने की आवाज सुनकर ग्रामीण और परिजन बाहर निकले। यहां देखा कि पंकज खून से लथपथ होकर जमीन पर गिरा हुआ है। गौरव समेत तीन लोग बाइक से भाग रहे थे। ग्रामीणों ने खदेड़ा तो संतुलन बिगड़ने से बाइक गिर गई। दो लोग भाग निकले और गौरव मौके से पकड़ा गया। गुस्साए भीड़ ने गौरव को पीट-पीटकर मार डाला। गौरव सिलीगुड़ी में रहकर लॉटरी का व्यवसाय करता था।

मत्स्य संघ के अध्यक्ष हैं पंकज के पिता

पंकज के पिता मंगल सहनी मत्स्य संघ के अध्यक्ष हैं और पूर्व पंचायत समिति सदस्य भी रह चुके हैं। घटना क्यों और किस विवाद में हुई है। ये परिजन नहीं बता रहे हैं। विवाद का कारण अबतक पुलिस भी स्पष्ट नहीं कर पा रही है। मृतक के बड़े भाई संतोष का कहना है कि पंकज का किसी से कोई विवाद नहीं था। गौरव अपराधी प्रवृति का है। वह अक्सर गांव ने बदमाशी करता रहता था। हालांकि पंकज की हत्या उसने क्यों की। ये पता नहीं चला सका है।

शराब पार्टी के बाद हुई हत्या

थानेदार रामनाथ प्रसाद ने बताया कि घटनास्थल के आसपास पुलिस ने छानबीन की। वहां पता लगा कि जमकर शराब की पार्टी की गई थी। शराब के नशे में आरोपी ने घटना को अंजाम दिया है। वहां से शराब की खाली बोतल और डिस्पोजल भी मिलने की बात बताई गई है। थानेदार का कहना है कि शराब पार्टी में गौरव समेत अन्य लोग थे, जो गोली चलने के बाद भाग निकले। उनका भी पता लगाया जा रहा है। परिजन की तरफ से अबतक कोई आवेदन नहीं मिला है और न घटना का कारण स्पष्ट हुआ है।


Suggested News