नवजात बच्चे का सौदा करनेवाले डॉक्टर जाएंगे जेल, वीडियो वायरल होने के बाद सिविल सर्जन ने दर्ज करवायी प्राथमिकी

नवजात बच्चे का सौदा करनेवाले डॉक्टर जाएंगे जेल, वीडियो वायरल होने के बाद सिविल सर्जन ने दर्ज करवायी प्राथमिकी

BETIA : बेतिया में नवजात की खरीद बिक्री का खेल चल रहा था जिसका वीडियो किसी ने बनाकर  सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया. वीडियो वायरल होने के बाद बेतिया सिविल सर्जन वीरेंद्र कुमार चौधरी ने जांच का आदेश दिया जांच के बाद नीतू सर्जिककेयर का लाइसेंस रद्द कर दिया गया है। वही बेतिया सिविल सर्जन वीरेंद्र कुमार चौधरी के आदेश पर नवजात बच्चे की बिक्री करने वाले डॉक्टर प्रमोद कुमार पर नगर थाना में एफआईआर दर्ज कराया गया और जल्द से जल्द डॉक्टर प्रमोद कुमार पर कार्रवाई करने की बात कही ।

बता दें कि जो वीडियो वायरल हो रहा था उसमें नीतू सर्जिकेयर के संचालक डॉ प्रमोद कुमार किसी से बात करते वीडियो में नजर आ रहे हैं और अपने मोबाइल में नवजात की फोटो दिखाते हुए कह रहे हैं कि बच्चा पूरी तरह स्वस्थ है और बच्चे के हाथ पैर बिल्कुल ठीक है. और नवजात बच्चा ढाई किलो का है और पैसे खर्च करने पड़ेंगे । 

वायरल वीडियो 23 जनवरी को बताया जा रहा है इस वीडियो में नीतू सर्जिकेयर के संचालक डॉ प्रमोद कुमार बता रहे हैं कि नवजात बच्चा हिंदू है और पूरी तरह स्वास्थ्य है. इसका चार लाख रुपया लगेंगे. मामला खुलासा होने पर लोगों ने बताया कि नवजात तस्करी का खेल कई वर्षों से चल रहा है । 

वहीं इस मामले में जांच के आधार पर विभागीय कार्रवाई करते हुए डॉ प्रमोद कुमार पर FIR दर्ज कर नीतू सर्जिकेयर को सील कर दिया गया है. वही नीतू सर्जिकेयर के संचालक डॉ प्रमोद कुमार फरार हो गए हैं

Find Us on Facebook

Trending News